Home » क्रिकेट » great gesture by indian team captain rohit Sharma in nidahas trophy final match Against Bangladesh, dinesh Karthik six
 

तस्वीरें- टीम इंडिया के जश्न में शामिल हुए मेजबान दर्शक तो रोहित ने थाम लिया श्रीलंका का झंडा

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 March 2018, 10:57 IST

श्रीलंका के आर प्रेमदासा स्टेडियम में खेला गया निदाहास ट्रॉफी का फाइनल मुकाबला सांसें रोक देने वाला रहा. इस मैच का रोमांच मैच की आखिरी गेंद तक रहा. मुस्तफिजुर रहमान के 18वें ओवर के सफल होने के बाद पलड़ा बांग्लादेशी टीम का भारी हो गया लेकिन आखिरी में दिनेश कार्तिक ने टीम इंडिया के लिए रन बनाए और आखिरी गेंद पर छक्का जड़ टीम को जीत दिलाई.

 

बता दें कि मैच जीतने के लिए टीम इंडिया को आखिरी गेंद पर पांच रनों की दरकार थी. इस दौरान फील्ड में बैठे, रेडियो पर सुन रहे और टीवी सेट्स के सामने बैठे दर्शकों के दिल की धड़कनें औसत रूप से तेज थीं. इस बीच बल्ला भारतीय बल्लेबाज दिनेश कार्तिक के हाथों में था और गेंद सौम्य सरकार के हाथों में. दोनों को अपनी अपनी टीम को जीत दिलाना चाहते थे लेकिन अंजाम दिनेश कार्तिक ने दिया.

 

दिनेश कार्तिक ने पारी की अंतिम गेंद पर छक्का लगाकर भारत को शानदार जीत दिलाई. तब जाकर टीम इंडिया के समर्थकों की जान में जान आई. इस रोमांचक फाइनल मुकाबले में भारत ने बांग्लादेश को चार विकेट से हराकर निदाहास ट्राफी अपने नाम कर ली. इस मैच के दौरान खास बात यह रही कि इस मैच में खेल भावना के तमाम रंग देखने को मिले. इससे पहले बांग्लादेश और श्रीलंका के बीच हुए मुकाबले में बांग्लादेश की करतूूत सामने आई थी.

 

दरअसल, मैच जीतने के बाद भारतीय खिलाड़ियों ने मैदान में श्रीलंका का झंडा उठाया तो वहीं टीम इंडिया और बांग्लादेश का मुकाबला देखने आए दर्शकों ने तालियां बजाकर उनका स्वागत किया. इस दौरान श्रीलंकाई टीम के समर्थक भी काफी खुश दिखे. टीम इंडिया की जीत पर श्रीलंकाई दर्शक भी झूम उठे. 

 

खेल भावना का एक मौका तब देखने को मिला जब एक श्रीलंकाई समर्थक ने टीम इंडिया और सचिन तेंदुलकर के फैन सुधीर गौतम को उठाकर प्रेमदासा के मैदान में घूमने लगा. इसके अलावा भारतीय खिलाड़ियों के साथ टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा ने भी श्रीलंका के झंडे को मैदान में उठाया तो श्रीलंकाई दर्शक फूले नहीं समाए. उन्होंने तालियों से टीम इंडिया के इस पहल की सराहना की. 

First published: 19 March 2018, 10:43 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी