Home » क्रिकेट » Greg Chappell says Virat Kohli is this era’s outstanding batsman Sourav Ganguly
 

गांगुली के 'सबसे बड़े दुश्मन' ने कोहली को बताया इस युग का सबसे बेहतरीन बल्लेबाज

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 August 2018, 15:25 IST

विराट कोहली इस युग के एक बेहतरीन बैट्समैन ही नहीं एक बेहतरीन कैप्टन भी हैं. यह बातें पूर्व भारतीय कोच ग्रेग चैपल ने कही हैं. चैपल ने कोहली की तारीफ करते हुए कहा कि वह अपनी पीढ़ी के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक हैं. उन्होंने कहा कि नॉटिंघम में हुए तीसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में उनकी और रहाणे की पार्टनरशिप ने इंडिया के जीत की नींव रखी.

बता दें कि जब भारतीय टीम में सौरव गांगुली की तूती बोलती थी और वह टीम इंडिया के कप्तान थे तो एक दौर ऐसा आया जब कोच ग्रेग चैपल ने सौरव गांगुली का क्रिकेटिंग करियर ही तबाह कर दिया था. अपने देश के लिए भले ही ग्रेग चैपल अच्छे साबित हुए हैं लेकिन बतौर कोच उन्हें कोई भी पसंद नहीं करता.

 

बताया जाता है कि ग्रेग चैपल का रवैया बतौर कोच एकदम तानाशाह जैसा होता था, जिसे कोई पसंद नहीं करता. लेकिन सौरव गांगुली ने टीम मैनेजमेंट के अलावा बोर्ड की एक नहीं सुनी और ग्रेग चैपल को टीम इंडिया का कोच बनाने की ख्वाहिश जाहिर कर दी. इसके पक्ष में कोई भी नहीं था.

गांगुली ग्रेग चैपल को पसंद करते थे, दोनों अच्छे दोस्त थे लेकिन चैपल ने गांगुली का ही क्रिकेट करियर तबाह कर दिया. खुद गांगुली ने इसका जिक्र अपनी किताब 'ए सेंचुरी इज नॉट इनफ' में किया है और बताया कि किस तरह पहले उन्हें टीम से निकाला और फिर कप्तानी छीनी.

पढ़ें: कोहली को अगले 2 टेस्ट मैचों के लिए मिलेगा ये ब्रह्मास्त्र, इंग्लैंड टीम मांगेगी पानी!

इतना ही नहीं क्रिकेट के तमाम जानकार और उस समय टीम इंडिया को वर्ल्ड कप जिताने का सपना संजोए बैठे सचिन तेंदुलकर ने भी माना है कि साल 2007 वर्ल्ड कप से बाहर होने का ज़िम्मेदार कोई और नहीं बल्कि कोच ग्रेग चैपल थे. बता दें कि दादा ने भी ग्रेग चैपल के इस प्रकरण को कुल 3 चैप्टर में बांटा है.

First published: 25 August 2018, 15:25 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी