Home » क्रिकेट » Happy Birthday Mohammad Kaif Fielding and Natwest Series Hero
 

टीम इंडिया का वो हैरतअंगेज फील्डर जिसने दुनिया को दिखाया कैसे की जाती है फील्डिंग

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 December 2019, 16:27 IST

1 दिसंबर 1980 को उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद(अब प्रयागराज) में जन्मे मोहम्मद कैफ(Mohammad Kaif) आज 39 साल के हो गए है. वैसे तो इस क्रिकेटर ने जब खेलना शुरू किया था तब टीम इंडिया में सचिन, द्रविड़ जैसे दिग्गज खिलाड़ी टीम इंडिया के लिए खेल रहे थे. ऐसे में उस समय आकर अपना नाम बनाना काफी मुश्किल काम था लेकिन अपने करियर में कैफ ने वो काम किया जिसके लिए आज भी उन्हें याद किया जाता है. हालांकि टीम इंडिया(Team India) के लिए कैफ ने बल्ले और गेंद से ऐसा कोई खास कमाल नहीं किया था जो इससे पहले या फिर उस दौरान खेलने वाले क्रिकेटर कर रहे थे.

क्रिकेटरों के परिवार में मोहम्मद कैफ ने अंडर 19 विश्व कप में टीम इंडिया(Under 19 2000 Team India) की अगुवाई की थी और इस साल चैंपियन भी बना था. मोहम्मद कैफ ने पिता मोहम्मद तारिफ उत्तर प्रदेश क्रिकेट टीम और रेलवे क्रिकेट टीम के लिए खेले, जबकि उनके बड़े भाई, मोहम्मद सैफ उत्तर प्रदेश क्रिकेट टीम और मध्य प्रदेश क्रिकेट टीम के लिए खेले.

मोहम्मद कैफ ने अपना पहला टेस्ट मुकाबला दक्षिण अफ्रीका(South Africa) के खिलाफ साल 2006 में खेला था जबकि इसके दो साल बाद यानि 2002 में उन्होंने इंग्लैंड(England) के खिलाफ अपना पहला वनडे मुकाबला खेला था. इसी साल इंग्लैंड(Netwest Series 2002) में उन्होंने 75 गेंदों पर 87 रनों की यादगार पारी खेली थी. जिसके दम पर भारत ने इस मुकाबले में 326 रनों का सफल चेज किया था. लेकिन इस युवा खिलाड़ी ने साल 26 साल की उम्र के बाद टीम इंडिया के लिए कोई मुकाबला नहीं खेला.


क्रिकेटरों के घर में जन्म लेने वाले इस खिलाड़ी ने राहुल द्रविड़(Rahul Dravid) की अनुपस्थिति में टीम इंडिया की कमान संभाली है. कैफ ने टीम इंडिया के लिए 125 वनडे मुकाबले खेले हैं जिसमें उनके बल्ले से 32.01 की औसत से 2753 रन आए थे. इस दौरान उन्होंने2 शतक और 17 अर्धशतक भी लगाए है. जबकि उन्होंने टीम इंडिया के लिए मात्र 13 टेस्ट मुकाबले खेले है जिसमें उन्होंने 624 रन बनाए है. इस दौरान उनके बल्ले से 1शतक और 3 अर्धशतक आए है.


मोहम्मद कैफ ने भले ही बल्ले से और गेंद से कोई खास कमाल नहीं दिखाया हो लेकिन फील्डिंग के दौरान वो टीम इंडिया के लिए काफी महत्वपूर्ण साबित होते थे. भारतीय टीम फील्डिंग में आज काफी अच्छी है. लेकिन पहले ऐसा नहीं था, तब कैफ ने अपने फील्डिंग और फिटनेस ने अपना नाम बनाया है. जब भी ऐसे क्रिकेटरों की गिनती की जाती हैं जिन्होंने फील्डिंग और फिटनेस से अपना नाम बनाया हो कैफ का नाम उसमें शामिल होता है.

कैफ के अपनी फील्डिंग से एक विश्व रिकॉर्ड भी अपने नाम किया है. साल 2003 के विश्व कप में श्रीलंका के खिलाफ हुए मुकाबले में उन्होंने चार कैच लपके थे. विश्व कप के एक मुकाबले में सबसे ज्यादा कैच लपकने का यह रिकॉर्ड आज भी उनके नाम है. इतना ही नहीं साल 2011 के आईपीएल के लिए बैंगलोर ने कैफ को फील्डिंग और फिटनेस के लिए टीम का कोच नियुक्त किया था.

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान से सुपरमैन बन पकड़ा शानदार कैच, देखता रहा गया पाकिस्तानी बल्लेबाज

First published: 1 December 2019, 12:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी