Home » क्रिकेट » ICC Banned Oman Cricketer Yousuf Al Balushi For Seven Years
 

ICC ने मैच फिक्सिंग के आरोप में यूसुफ को सात साल के लिए किया बैन

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 February 2020, 14:40 IST

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (International Cricket Council) ने सोमवार को ओमान (Oman) के खिलाड़ी यूसुफ अल बलूशी (Yousuf Al Balushi) को सात साल के लिए क्रिकेट के तीनों फार्मेट से प्रतिबंधित कर दिया. यूसुफ अल बलूशी पर हैं कि उन्होंने संयुक्त अरब अमीरात में खेले गए 2019 टी 20 विश्व कप क्वालीफायर के दौरान टीम के सदस्यों को भ्रष्टाचार में शामिल होने के लिए प्रभावित करने का प्रयास किया था.

बालूशी को पिछले महीने इसी अपराध के लिए निलंबित कर दिया गया था लेकिन अब उन्हें औपचारिक रूप से दंडित किया गया है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार उन्होंने अपने ऊपर लगे आरोपों को स्वीकार कर लिया है. आईसीसी ने इस मामले में एक प्रेस रिलीज जारी किया है जिसमें लिखा है,' यूसुफ अल बलूशी ने अपने ऊपर लगे आरोपों को स्वीकार किया और भ्रष्टाचार विरोधी ईकाई द्वार सजा के लिए उनकी मंजूरी है.'

आईसीसीसी के महाप्रबंधक एलेक्स मार्शल ने साफ तौर पर कहा कि बलूशी के अपराध 'बहुत गंभीर' हैं. उन्होंने यह भी खुलासा किया कि प्रतिबंध "काफी लंबा" हो सकता था लेकिन बलूशी ने जांच में सहयोग किया और अपना अपराध स्वीकार किया. 

मार्शल ने कहा,'यह एक बहुत ही गंभीर अपराध है जहां एक खिलाड़ी ने हाई प्रोफाइल गेम्स में भ्रष्ट गतिविधि में लिप्त होने के लिए एक टीम के साथी को लाने का प्रयास किया, लेकिन वह असफल रहा. बालूशी ने जांच में पूरा सहयोग किया अगर वो ऐसा नहीं करते तो उन पर प्रतिबंध काफी लंबा लग सकता था. खिलाड़ी ने यह भी संकेत दिया है कि वह युवा खिलाड़ियों को उनकी गलतियों से सीखने में मदद करने के लिए हमारी ओर से भविष्य की अखंडता शिक्षा कार्यक्रमों में योगदान देने के लिए तैयार है.'

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने यूसुफ अल बलूशी को भ्रष्टाचार निरोधक संहिता के अनुच्छेद 2.1.1, अनुच्छेद 2.1.4, अनुच्छेद 2.4.4 और अनुच्छेद 2.4.7 का दोषी पाया है.


आईसीसी की जांच में पाया गया कि बलूशी को अगस्त 2019 में बहरीन में एक गैर-पंजीकृत एराबियन कारनिवल लीग किसी ने मैच खेलने के लिए कहा था. आरोप हैं कि वहीं पर उस व्यक्ति ने बलूशी के मैच फिक्सिंग की बात पूछी थी. जिस व्यक्ति ने बलूशी से बात की थी उसके बाद उसने बलूशी को दो और लोगों से उसे मिलवाया था.

रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि बलूशी को ओमान के बाकी खिलाड़ियों को भी अपने साथ मैच फिक्सिंग करने के लिए कहा था लेकिन ओमान के बाकी खिलाड़ी उनके साथ नहीं आए और किसी एक खिलाड़ी ने आईसीसी की एंटी करप्शन यूनिट से इस मामले की जांच कर दी थी जिसके बाद उनकी जांच दो रही थी. जांच की शुरुआत होते ही बालुशी को एक महीने के लिए सस्पेंड कर दिया गया था.

IPL 2020 का एड हुआ जारी, धोनी का बना मजाक, लोगों ने गांगुली को किया ट्रोल

First published: 24 February 2020, 14:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी