Home » क्रिकेट » ICC Cricket World Cup 2019: in India Pakistan Match satta bazaar bids cross Rupees 1500 cr
 

भारत-पाक मैच: सट्टा बाजार में कोहली-बुमराह पर सबसे अधिक भरोसा, 1500 करोड़ रुपये दांव पर

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 June 2019, 15:11 IST

ICC वर्ल्ड कप में आज भारत और पाकिस्तान के बीच हाई-वोल्टेज मैच मैनचेस्टर में है. यह महामुकाबला दोपहर तीन बजे से शुरु होगा, जैसे-जैसे वक्त नजदीक आता जा रहा है क्रिकेट फैंस की धड़कनें बढ़ती जा रहीं हैं. वर्ल्ड कप में भारत ने हमेशा पाकिस्तान को धूल चटाया है, आंकड़े बताते हैं कि विश्व कप में भारत और पाकिस्तान की भिड़ंत 6 बार हुई है और हरेक बार भारतीय शेरों ने पाकिस्तान को पटखनी दी है. सट्टा बाजार भी इस मौके का जमकर फायदा उठाने की फिराक में है और इस मैच में अरबों रूपये दांव पर लगे हैं.

 

 

सट्टा बाजार को भारत पर भरोसा

ख़बरों की मानें तो इस मैच को लेकर सट्टा बाजार 1500 करोड़ के पार चला गया है. सट्टेबाजों का गाजियाबाद, नोएडा और गुड़गांव जैसे दिल्ली एनसीआर से सटे इलाकों में नेटवर्क काफी मजबूत माना जाता है. सट्टा बाजार में भारत का पलड़ा भारी है और 60 प्रतिशत से ज्यादा दांव भारत की जीत पर हैं.

सबसे महंगा खिलाड़ी

सूत्रों के मुताबिक, भारतीय खिलाड़ियों को लेकर बेस-प्राइस निर्धारित है. बल्लेबाज़ी को लेकर विराट कोहली और रोहित पर सबसे ज्यादा भरोसा किया जा रहा है तो गेंदबाजी में जसप्रीत बुमराह पर. उदाहरण के तौर पर कोहली के लिए 18 रुपये तो जसप्रीत बुमराह के लिए 15 रुपये का आधार कीमत तय है. जबकि पाकिस्तानी गेंदबाज मोहम्मद आमिर के लिए 6 रुपये और बल्लेबाज़ी में बाबर आजम तथा फखर जमां के ऊपर दांव है.

एक-एक गेंद पर सट्टा

सट्टा सिर्फ मैच जीतने- हारने पर नहीं, बल्कि एक-एक गेंद, एक-एक ओवर, कौन बल्लेबाज कितने रन बनाएगा, कौन कितने विकेट लेगा इस पर भी लगता है. न्यूज एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक एक सट्टेबाज ने कहा कि IPL मैच की तरह इस वर्ल्ड कप में भी कॉलेज के स्टूडेंट्स, व्यवसायी, क्रिकेट प्रशंसक, व्यापारी, कॉरपोरेट महिलाएं, हवाला कारोबारी, हमारे साथ हैं.

प्रशासन मुस्तैद

पुलिस उपायुक्त मधुर वर्मा ने कहा कि रविवार को भारत-पाक के बीच होने वाले मैच को लेकर हमारी सट्टेबाजों पर पैनी नजर है. हम पांच सितारा होटलों, गेस्ट हाउस, खासकर करोल बाग और पुरानी दिल्ली के इलाके की मॉनिटरिंग कर रहे हैं. सट्टेबाजों का नेटवर्क मजबूत होता है और इन्हें पकड़ पाना काफी मुश्किल होता है, लेकिन हम अपना काम मुस्तैदी के साथ कर रहे हैं.

First published: 16 June 2019, 12:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी