Home » क्रिकेट » Ind vs SA second one day match against south africa in centurion
 

Ind vs SA: डरबन के बाद सेंचुरियन में भी साउथ अफ्रीका को झटका देगी टीम इंडिया!

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 February 2018, 9:59 IST

डरबन में खेले गए पहले मैच में साउथ अफ्रीकन टीम को 6 विकेट से पराजित करने वाली कोहली एंड कंपनी दूसरे मैच में भी साउथ अफ्रीका को झटका देने को तैयार है. टीम इंडिया ने पहले वनडे मैच में दक्षिण अफ्रीका को शिकस्त देकर डरबन में अपनी पहली वनडे जीत के साथ सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल की थी. दोनों टीमों के बीच छह वनडे मैचों की सीरिज का दूसरा मैच रविवार को सेंचुरियन में खेला जाएगा.

मैच से पहले साउथ अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस के चोटिल होकर सीरीज से बाहर हो जाने की वजह से साउथ अफ्रीका की राह और कठिन हो गई है. फाफ की जगह दक्षिण अफ्रीकी टीम में फरहान बहरदीन को बुलाया गया है. दूसरे वनडे में दक्षिण अफ्रीकी टीम की कमान ओपनर मार्करैम संभालेंगे. इससे पहले दक्षिण अफ्रीका के धाकड़ बल्लेबाज एबी डिविलियर्स भी अंगुली की चोट के कारण शुरुआती तीन वनडे से बाहर हो गए थे.

 

दरअसल डरबन वनडे के दौरान फाफ डु प्लेसिस की अंगुली में चोट लगी थी और वह वनडे व टी-20 सीरीज दोनों से बाहर हो गए हैं. वहीं दक्षिण अफ्रीका के घरेलू क्रिकेट में तीसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले विकेटकीपर बल्लेबाज हेनरिक क्लासेन को क्विंटन डि कॉक के बैकअप के तौर पर टीम में शामिल किया गया है. अगर जरूरत पड़ी तो डिकॉक को अंतिम-11 से बाहर भी किया जा सकता है.

पहले वनडे में मिली हार के साथ ही घरेलू मैदान पर साउथ अफ्रीका के 17 मुकाबलों के विजयक्रम पर ब्रेक भी लग गया. साउथ अफ्रीका आखिरी बार फरवरी 2016 में इंग्लैंड के खिलाफ मैच हारी थी इसके बाद वह लगातार 17 मैच जीत चुकी थी. लेकिन भारतीय टीम ने डरबन में पटखनी देकर उसके विजयरथ को रोक दिया.

गंवानी पड़ सकती है नंबर वन रैंकिंग
दक्षिण अफ्रीका अगर सेंचुरियन में भी मैच हार जाती है तो उसे फिलहाल अपनी नंबर वन की कुर्सी गंवानी पड़ेगी. वहीं अगर इंडिया ने सीरीज को 4-2 से अपने नाम कर लिया तो फिर वह अफ्रीकी टीम को पीछे छोड़ते हुए नंबर वन का दावा और मजबूत कर लेगी.

 

सेंचुरियन में अच्छा है भारत का रिकॉर्ड
दक्षिण अफ्रीका के दूसरे मैदानों की अपेक्षा में सेंचुरियन में भारत का रिकॉर्ड काफी अच्छा है. भारत ने यहां खेले अपने 11 मुकाबलों में चार में जीत हासिल की है जबकि पांच में उसे हार का मुंह देखना पड़ा है. अन्य मैदानों के मुकाबले में यह अच्छा रिकॉर्ड है. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ उसे सेंचुरियन में खेले पांच वनडे में से दो में जीत और इतने में ही हार मिली है.

हालांकि इस मैदान पर भारत को प्रोटियाज टीम के खिलाफ आखिरी जीत 2001-02 में त्रिकोणीय सीरीज में मिली थी। इसके बाद भारत को यहां 2006-07 और 2010-11 के दौरों पर एक-एक मुकाबलों में हार मिली. वहीं 2013-14 में आखिरी बार इस मैदान पर खेला गया मैच बारिश की वजह से नहीं हो सका था.

ये होंगी टीमें:
भारत- विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, अजिंक्य रहाणे, रोहित शर्मा, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक, केदार जाधव, एमएस धौनी (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, यजुवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, मुहम्मद शामी, शार्दुल ठाकुर।

दक्षिण अफ्रीका- हाशिम अमला, क्विंटन डि कॉक (विकेटकीपर), जेपी डुमिनी, इमरान ताहिर, मार्करैम, डेविड मिलर, मोर्नी मोर्केल, क्रिस मॉरिस, लुंगी, एंदिल फेलुक्वायो, कैगिसो रबादा, तबरेज शम्सी, जोंडो, फरहान बहरदीन, हेनरिक क्लासेन।

First published: 4 February 2018, 9:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी