Home » क्रिकेट » India vs Australia ODI Match Sharjah 1998 Sachin Tendulkar Shane Warne Autograph
 

HBD Sachin Tendulkar: जब सचिन तेंदुलकर के सामने नतमस्तक हो गया था ऑस्ट्रेलिया का दिग्गज गेंदबाज, मैच के बाद मांगा था ऑटोग्राफ

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 April 2020, 11:10 IST

भारतीय क्रिकेट टीम (India National Cricket Team) के पूर्व खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) आज अपना 47वां जन्मदिन मना रहे हैं. मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने साल 1996 में भारतीय टीम के लिए अपना पहला मैच खेला था और साल 2013 में टीम इंडिया (Team India) के लिए आखिरी बार वो मैदान पर नजर आए थे. सचिन तेदुंलकर करीब दो दशक तक टीम इंडिया के लिए खेलें हैं और उन्होंने इस दौरान कई कीर्तिमान अपने नाम किए है. सचिन तेंदुलकर के जन्मदिन पर हम आपको उनसे जुड़ा एक ऐसा किस्सा बता रहे हैं जब इस खिलाड़ी की बल्लेबाजी के सामने ऑस्ट्रेलिययाई गेंदबाज शेन वॉर्न (Shane Warne) ने भी घुटने टेक दिए थे.

सचिन तेंदुलकर और ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज स्पिन गेंदबाज शेन वॉर्न के बीच प्रतिद्वंता जग जाहिर है. जब दोनों खिलाड़ी अपने देश के लिए खेलते थे, उस दौरान दोनों क्रिकेट के मैदान पर कई बार एक दूसरे के आमने-सामने आए थे. वहीं शारजाह में 24 अप्रैल 1998 को सचिन तेंदुलकर (India vs Australia, Sharjah 1998 ) के सामने शेन नतमस्तक नजर आए. सचिन उनकी जमकर धुनाई कर रहे थे.


ये भी पढ़े-सचिन तेंदुलकर ने किया मजेदार खुलासा, आखिर मोहम्मफ कैप को क्यों कहते थे 'भाई साहब' 

ये भी पढ़े- सचिन तेंदुलकर के 3 गेंदबाजी रिकॉर्ड जिनके बारे में शायद ही जानते होंगे आप

तीन दिन में दूसरी बार हुई थी शेन की 'पिटाई'

उन दिनों आस्ट्रेलियाई टीम बेहतरीन फार्म में थी. भारत, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच शारजाह में एक ट्राइएंगुलर सीरीज खेली जा थी. भारत को अपना आखिरी लीग मैच 22 अप्रैल को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलना था. भारत को फाइनल में पहुंचने के लिए उसे अपने आखिरी लीग मैच में जीत दर्ज करनी थी या फिर उसे हार का अंतर काफी कम करना था.

ऑस्ट्रेलिया ने उस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत को जीत के लिए 285 रनों का लक्ष्य मिला था. ऑस्ट्रेलिया से मिले लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया के लिए सचिन ने शतकीय पारी खेली थी. सचिन ने उस मैच में 143 रनों की पारी खेली थी.

ये भी पढ़े- जब इमरान खान की अगुवाई में पाकिस्तानी टीम के लिए खेले थे सचिन तेंदुलकर

हालांकि, भारत को करीबी अंतर से हार का सामना करना पड़ा था और भारत फाइनल में पहुंच गया था जहां उसका सामना ऑस्ट्रेलिया से होना था. इस सीरीज का फाइनल मुकाबला सचिन के 25वें जन्मदिन के दिन खेला गया था. सचिन ने फाइनल मैच में भी शतक ठोका था और टीम इंडिया यह सीरीज जीतने में सफल हुई थी.

तीन दिन में दो बार इतनी जबरदस्त पिटाई होने के बाद ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज ने भी स्वीकार किया था और मैच के बाद उन्होंने सचिन से अपनी टीशर्ट पर उनका ऑटोग्राफ मांगा था. इतना ही नहीं इस मैच के बाद सचिन की तारीफ करते ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने कहा था कि उनकी टीम सिर्फ सचिन से हार गई थी.

इस मैच को याद करते हुए सचिन ने कहा था,'मैच के बाद पुरस्कार वितरण समारोह खास बन गया था. स्टीव वॉ ने कहा था कि वे मुझसे हार गए. आस्ट्रेलियाई कप्तान ने यह बात उस दिन कही थी जिस दिन मेरा 25वां जन्मदिन था. जन्मदिन पर इससे बेहतर कोई तोहफा नहीं हो सकता था.'

ये भी पढ़े- Video: जब पहली बार एक दूसरे के खिलाफ खेले सचिन तेंदुलकर और विनोद कांबली

First published: 24 April 2020, 11:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी