Home » क्रिकेट » india vs australia: we did not think about the ravindra jadeja option says indian captain virat kohli
 

हार के बाद भी नहीं बदले विराट कोहली के तेवर, जडेजा को न खिलाने को लेकर दे गए ये बड़ा बयान

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 December 2018, 13:09 IST

 मेजबान आस्ट्रेलिया के हाथों दूसरे टेस्ट मैच में 146 से मात खाने के बाद भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली ने कहा कि पिच को देखते हुए और टीम में चार गेंदबाजों के रहते उन्होंने रवींद्र जडेजा के चयन पर विचार नहीं किया. आस्ट्रेलिया ने अपने गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर यहां पर्थ स्टेडियम में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच के पांचवें और आखिरी दिन मंगलवार को दुनिया की नंबर-1 टेस्ट टीम भारत को 146 रन से हराकर चार मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली.

जहां एक तरफ पिच को तेज गेंदबाजों के अनुकूल माना जा रहा था, वहीं, मेजबान टीम के ऑफ स्पिनर नाथन लायन ने मैच में कुल 8 विकेट अपने नाम किए और उन्हें मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला.

कोहली ने मैच के बाद कहा कि पिच को देखते हुए हमें अपने चार तेज गेंदबाजों से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद थी इसलिए जडेजा के चयन पर विचार ही नहीं किया. जब हमनें पहली बार पिच देखी तो हमें लगा तेज गेंदबाज काफी होंगे. लेकिन लायन ने इस विकेट पर काफी अच्छी गेंदबाजी की. अगर अश्विन फिट होते तो हम उनके नाम पर विचार कर सकते थे. ईमानदारी से कहूं तो हमने कभी स्पिन विकल्प के बारे में नहीं सोचा.

भारतीय कप्तान ने हार के बावजूद टीम के साथ-साथ अपने गेंदबाजों की भी तारीफ की. उन्होंने कहा कि हम कुछ हिस्सों में अच्छा खेले और इस बात से सीख लेकर हम मेलबर्न में अगले मैच में उतरेंगे. हमारे गेंदबाजों ने जिस तरह का प्रदर्शन किया वह वाकई काबिलेतारीफ है. खास तौर पर दूसरी पारी में हमारे गेंदबाजों का प्रदर्शन बहुत अच्छा रहा.

कोहली ने आस्ट्रेलियाई टीम की तारीफ करते हुए कहा कि ऑस्ट्रेलिया ने हमसे अच्छा क्रिकेट खेला इसलिए वह जीत के हकदार थे. इस विकेट पर अगर 30-40 रन का कम लक्ष्य होता तो अच्छा रहता और फिर मैच रोमांचक होता, लेकिन उन्होंने अच्छा स्कोर खड़ा किया. 

भुवनेश्वर कुमार की जगह उमेश यादव को अंतिम एकादश में शामिल करने पर कोहली ने कहा कि भुवी ने हाल ही में कुछ ज्यादा टेस्ट मैच नहीं खेले हैं. उमेश ने अपने पिछले टेस्ट मैच में 10 विकेट लिए थे और वह अच्छी लय में दिख रहे थे, इसलिए हमने उन्हें अंतिम एकादश में चुना. 

First published: 18 December 2018, 13:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी