Home » क्रिकेट » India vs Bangladesh Day-Night Test Match All You need to Know
 

भारत और बांग्लादेश के बीच डे-नाइट टेस्ट मैच से जुड़ी हर बात जो आपको जाननी चाहिए

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 November 2019, 12:28 IST

भारत और बांग्लादेश के बीच दो टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला इंदौर में खेला गया था. इस मुकाबले में भारतीय टीम ने पारी और 130 रनों के बड़े अंतर से बांग्लादेश को हराकर 1-0 से सीरीज में बढ़त बना ली है. अब दोनों देशों के बीच दूसरा मुकाबला कोलकाता में होने वाला है. यह डे-नाइट टेस्ट मैच हैं ऐसे में दोनों टीमों के लिए यह एक ऐतिहासिक पल होगा. इस मुकाबले के लिए बीसीसीआई और बंगाल क्रिकेट एसोसिएशन ने भी खास तैयारी की है.

सेना के पैराट्रूपर्स देंगे गेंद

भारत और बांग्लादेश डे-नाइट क्रिकेट कोलकाता के ईडन गार्डन्स में होने वाला है. इस मुकाबले के लिए टीम इंडिया और बांग्लादेश तैयार भी हैं और उत्साहित भी है. इस ऐतिहासिक मुकाबले को खास बनाने के लिए बीसीसीआई ने कई तैयारियां की है. सेना के पैराट्रूपर्स ईडन गार्डन में दोनों कप्तानों को मुकाबले के लिए गेंद देंगे. इस बारे में बंगाल क्रिकेट एशोसिएशन के एक अधिकारी ने बीते दिनो जानकारी देते हुए कहा था,'पैराट्रूपर दो गुलाबी गेंद के साथ विकेट के ऊपर आयेंगे. हमने सेना (पूर्वी कमान) के साथ इस योजना की चर्चा की है.'

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री मुकाबला देखने आएंगी

इस टेस्ट मुकाबले के लिए बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना भारत आ रही है. शेड्यूल के मुताबिक पहले सेना के पैराट्रूपर्स कप्तानों को गेंद देंगे उसके बाद सेना दोनों देशों का राष्ट्रगान बजाएंगी. इसके बाद बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ईडन की घंटी बजाकर मैच को अधिकारिक तौर पर शुरू करेंगी. इस मुकाबले के लिए भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी निमंत्रण भेजा गया है लेकिन उनके आने पर संस्पेंस बना हुआ है.

भारतीय खिलाड़ी होंगे सम्मानित

बंगाल क्रिकेट एसोसिएशन इस मौके पर भारतीय टीम के पूर्व कप्तानों के साथ साथ कई और भारतीय खिलाड़ियों को सम्मानित करने की योजना बना रहा है. इस मौके पर सचिन तेंदुलकर, ओलंपिक चैंपियन अभिनव बिंद्रा, टेनिस स्टार सानिया मिर्जा, विश्व बैडमिंटन चैंपियन पीवी सिंधू और एमसी मेरीकोम को सम्मानित किया जाएगा इस बात की चर्चा जोरों पर है.

पिंक गेंद से होगा मुकाबला

भारत और बांग्लादेश के बीच होने वाला यह मुकाबला पिंक गेंद से होगा. यह पहली बार होगा जब दोनों देश पहली बार किसी अंततराष्ट्रीय मुकाबले में पिंक गेंद से खेलेंगे. पिंक गेंद किसी तरह से व्यवहार करेगी इस बात की किसी भी खिलाड़ी को कोई जानकारी नहीं है. पिंक गेंद के खिलाफ बल्लेबाज को खेलने में कोई दिक्कत ना आए इसीलिए इस गेंद पर काले रंग के धागे से इसकी सिम की सिलाई की गई है.

समय में हुआ है बदलाव

सर्दियों का मौसम होने के कारण उम्मीद की जा रही है कि रात में ओस ज्यादा होगी. इसीलिए यह मुकाबला रोज एक घंटा पहले खत्म हो ताकि ओस का खेल पर असर ज्यादा ना हो. ईडन गार्डन्स के ग्राउंडमेन ने पहले से ही एंटी-ओस स्प्रे का उपयोग करना शुरू कर दिया है. माना जा रहा है कि ओस के कारण गेंद भारी हो जाएगी ऐसे में गेंदबाजों को मुश्किल हो सकती है. इसीलिए दोनों देशों के बोर्ड ने तय किया है कि यह मुकाबला रोज 8 बजे तक खत्म हो जाएगा.

'पिंकू-टिंकू' भी दिखेंगे मैच के दौरान

भारत और बांग्लादेश दोनों देशों के लिए यह एक ऐतिहासिक पल भी होगा. ऐसे में दोनों देशों के लिए मस्कट भी तैयार किया गया है. यह मस्कट मैच के दौरान दिखाई देगा. भारत के मस्कट का नाम पिंकू है जबकि बांग्लादेश के मस्कट का नाम टिंकू रखा गया है. इतना ही नहीं इस मुकाबले के दौरान आसमान में एक विशालकाय गुलाबी रंग का गुब्बारा भी मुकाबले के दौरान मैदान के ऊपर उड़ते हुए दिखाई देगा. इस मुकाबलो को ध्यान में रखते हुए शहीद मीनार और केएमसी पार्कों में गुलाबी रंग की रौशनी की जाएगी, जबकि टाटा स्टील इमारत पर 20 नवंबर से 3डी मैपिंग देखने को मिलेगी.

आखिर पिंक बॉल ही क्यों इस्तेमाल की जा रही है भारत और बांग्लादेश के बीच डे-नाइट टेस्ट मुकाबले में, जानिए कारण

First published: 20 November 2019, 17:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी