Home » क्रिकेट » india vs South Africa 1st test in cape town virat kohli want to win the test series for making history Ind vs Sl team india
 

India vs South Africa: टीम इंडिया का 'विराट' टेस्ट, केपटाउन में होगी भिड़ंत

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 January 2018, 10:31 IST
(Twitter)

बेहतरीन फॉर्म में चल रही टीम इंडिया आज दो बजे से साउथ अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन के न्यूलैंड्स मैदान पर अपने पहला टेस्ट मैच खेलने उतरेगी. तीन टेस्ट मैचों की ये सिरीज दोनों टीमों के लिए किसी अग्नि परीक्षा से कम नहीं है. भारतीय कप्तान विराट कोहली के जिम्मे विदेशी जमीं पर टीम इंडिया के पुराने खराब रिकार्ड को सुधारने की जिम्मेदारी है. तो वहीं साउथ अफ्रीका को विश्व की बेहतरीन टीम से दो-दो हाथ करने की चुनौती होगी.

बता दें कि टीम इंडिया ने पिछली नौ टेस्ट सिरीजों को जीतने में सफलता प्राप्त की है. इस आंकड़े के हिसाब से भारतीय टीम ने आस्ट्रेलिया के लगातार नौ टेस्ट सिरीज जीतने के विश्व रिकार्ड की बराबरी कर ली है. ऐसे में 'विराट' सेना चाहेगी कि साउथ अफ्रीका को हराकर किसी भी तरह दस सिरीज लगातार जीतकर इस रिकॉर्ड को अपने नाम करेगी.

 

गौरतलब है कि भारत ने साल 2015 से कोई भी टेस्ट सिरीज नहीं गंवाई है. लेकिन भारत ने दक्षिण अफ्रीका में साल 1992 से एक भी सिरीज नहीं जीता है. ऐसे में इस कलंक को भी विराट कोहली टीम इंडिया के माथे से धोना चाहेंगे. बता दें कि साल 1992 के बाद से भारत ने पांच सिरीज खेलीं हैं. इनमें से चार बार भारत को हार का सामना करना पड़ा है जबकुि साल 2010-11 में एमएस धोनीकी कप्तानी में खेली गई सिरीज ड्रॉ रही थी.

इस सिरीज में बल्लेबाजी को लेकर भारत का दारोमदार चेतेश्वर पुजारा और विराट कोहली के ऊपर सबसे ज्यादा रहेगा, क्योंकि इन दोनों बल्लेबाजों ने पिछले साल सबसे ज्यादा रन बनाए हैं. पुजारा बीते साल दुनिया में साल 2017 में सबसे ज्यादा टेस्ट रन बनाने के मामले में दूसरे और वुिराट कोहली चौथे स्थान पर रहे थे. इन दोनों के अलावा टीम को उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे से भी रन बनाने की उम्मीद होंगी. साथ ही साथ सलामी बल्लेबाज शिखर धवन, लोकेश राहुल और मुरली विजय भी पिछले कुछ समय से फॉर्म में हैं.

वहीं भारत को इस दौरे पर सबसे ज्यादा उम्मीदें अपने तेज गेंदबाजी आक्रमण से हैं. टीम इंडिया के पास मोहम्मद शमी, ईशांत शर्मा, भुवनेश्वर कुमार के रूप में बेहतरीन तेज गेंदबाज हैं. साथ ही शॉर्ट फोर्मेट के दिग्गज तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को भी पहली बार टेस्ट टीम में शामिल किया गया है.

टेस्ट रैकिंग में दूसरे नंबर पर काबिज साउथ अफ्रीका को मेजबानी करने का फायदा मिल सकता है लेेकिन साउथ अफ्रीका इस बात से भी भली भांति परिचित होगी कि भारतीय टीम बेहद मजबूत मानसिकता और बेहतरीन संतुलन के साथ उसे चुनौती देने आई है.

मेजबान साउथ अफ्रीका को बल्लेबाजी एबी डिविलियर्स, फाफ डु प्लेसिस, हाशिम अमला और क्विंटन डी कॉक के इर्द गिर्द घूमती है जबकि गेंदबाजी में डेल स्टेन, क्रिस मौरिस की वापसी से भी टीम को मजबूती मिली है. इन दोनों के अलावा साउथ अफ्रीकाके पास वार्नोन फिलेंडर, कागिसो रबाडा जैसे घातक तेज गेंदबाज हैं जो भारत को कहीं हद तक परेशानी में डाल सकते हैं.

टीम इस प्रकार हैं:

भारत-

विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, रोहित शर्मा, रिद्धिमान साहा (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, मोहम्मद शमी, ईशांत शर्मा, जसप्रीत बुमराह, पार्थिव पटेल, उमेश यादव, भुवनेश्वर कुमार, हार्दिक पांड्या, लोकेश राहुल.

दक्षिण अफ्रीका-

फाफ डु प्लेसिस (कप्तान), अब्राहम डिविलियर्स, एडिन मार्कराम, हाशिम अमला, टेम्बा बावुमा, आंदिले फेहुलक्वायो, केशव महाराज, कागिसो रबादा, मोर्ने मोर्कल, डेल स्टेन, क्रिस मौरिस, वार्नोन फिलेंडर, थेयुनिस डे ब्रून.

First published: 5 January 2018, 10:31 IST
 
अगली कहानी