Home » क्रिकेट » India vs South Africa ODI Series Chahal TV Hardik Pandya on Come Back
 

हार्दिक पांड्या का बड़ा खुलासा, बोले- चोट के बाद मानसिक रूप से..

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 March 2020, 20:37 IST

टीम इंडिया (Team India) के ऑल राउंडर खिलाड़ी हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) बीते साल सितंबर महीने से ही टीम से बाहर है. हार्दिक पांड्या पीठ की चोट टीम से दूर रहे. पहले माना जा रहा था हार्दिक पांड्या न्यूजीलैंड के खिलाफ हो रही सीरीज में वापसी कर सकते हैं लेकिन वो उससे पहले फिट नहीं हो पाए जिसके कारण उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ हुए दौरे में टीम में शामिल नहीं किया गया. हालांकि हार्दिक पांड्या अब पूरी तरह से फिट है और वो दक्षिण अफ्रीकी टीम के खिलाफ वापस करने को तैयार है.

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच गुरूवार को धर्मशाला में तीन वनडे मैचों की सीरीज (India vs South Africa ODI Series) का पहला मुकाबला खेला जाना था जो बारिश के कारण धुल गया. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफा सीरीज से हार्दिक पांड्या के अलावा, भुवनेश्वर कुमार और शिखर धवन की वापसी कर रहे है.  वहीं धर्मशाला वनडे से पहले हार्दिक पांड्या युजवेंद्र चहल के खास प्रोगराम चहल टीवी पर नजर आए. इस दौरान चहल ने उनके वापसी के बारे में सवाल किया.


इसका जवाब देते हुए चहल ने कहा,‘6 महीने में मैने सबसे ज्यादा यहां का वातावरण मिस किया है, इंडिया के लिए खेलना,  टीम इंडिया  की जर्सी पहनकर जो फीलिंग आती है. वो अब मेरे लिए मानसिक रूप से चुनौती बन गया था. इस दौरान काफी परेशानियां भी हुई है. मैं कोशिश कर रहा था कि जल्दी फिट हो जाऊं, लेकिन मैं फिट नहीं हो पा रहा था. उस समय मैं मानसिक रूप से दबाव में आ गया था. चीजें काफी उलझी-उलझी लगने लगी थी. टचवुड की सब ठीक हो गया और कमबैक में रिहैब अच्छा हुआ. काफी लोगों ने मेरी मदद की है इस दौरान.’

चोट से वापसी के बाद हार्दिक पांड्या ने डीवाई पाटिल टूर्नामेंट में धमाकेदार पबल्लेबाजी की थी और उन्होंने टूर्नामेंट में दो शतक भी जड़े थे. इस टूर्नामेंट के बारे में उन्होंने कहा,टूर्नामेंट इंपोर्टेंट तो था. साढे छे महीने तक मैंने एक भी मैच नहीं खेला था और मुझे इंटरनेशनल कमबैक भी करना था. मेरा कॉन्फीडेंस इंपोर्टेंट था, मैं चाहे जितनी प्रैक्टिस कर लूं, लेकिन मैच सिचुएशन अलग होती है.

वहीं अपनी 158 रनों की पारी केबारे में उन्होंने कहा,'मैं खेलता गया तो मेरा आत्मविश्वास बढ़ता गया, छक्के लगते गए तो मैं बोला लग ही रहे हैं तो रुकना क्यों है? 10 छक्के लगे तो मैं रुका नहीं और छक्के मारता गया. मैंने कभी सोचा नहीं था कि एक इनिंग में 20 छक्के मारूंगा.'

IND vs SA ODI Series: कोरोना ने किया मजा किरकिरा, दूसरे मैच में स्टेडियम में दर्शकों को नहीं दी जाएगी एंट्री

First published: 12 March 2020, 20:37 IST
 
अगली कहानी