Home » क्रिकेट » India vs South Africa prior to this African bowled out their opponents in the first innings each time
 

भारतीय शेरों के सामने दक्षिण अफ्रीका का हुआ बुरा हाल, हर गेंदबाज की हो रही पिटाई, देखें आंकड़े

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 October 2019, 21:10 IST

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीत अभी तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा मुकाबला पुणे में खेला जा रहा है. पुणे टेस्ट मैच के दूसरे दिन भारतीय टीम ने 601 रनों पर अपनी पारी घोषित की. भारतीय कप्तान विराट कोहली पहली पारी में 254 रन बनाकर नाबाद रहे. जबकि मैच के पहले दिन सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल ने शतक लगाया था. वहीं मैच के दूसरे दिन खेलने उतरी दक्षिण अफ्रीकी टीम ने शुरूआत में ही तीन विकेट गंवा दिए. पुणे टेस्ट के दो दिनों के खेल को देखे तो इस मैच पर भारत की मजबूत पकड़ नजर आती है.

वहीं दोनों देशों के बीच विशाखापटनम में पहला सीरीज का पहला टेस्ट मुकाबला खेला गया था जो भारत ने 203 रनों से जीता था. विशाखापटनम टेस्ट मैट की दोनों पारियों में भारतीय टीम को अफ्रीकी गेंदबाज ऑल आउट नहीं कर पाए थे. भारतीय बल्लेबाजों के सामने अफ्रीकी गेंदबाज पानी मांगते नजर आ रहे थे.

 

दक्षिण अफ्रीकी टीम के आंकड़े देखें तो ऐसा लगता हैं कि अफ्रीकी गेंदबाजों को यह नहीं पता चल पा रहा है कि भारतीय बल्लेबाजों को आउट कैसे करे. दरअसल, भारत के खिलाफ सीरीज से पहले अफ्रीका ने जो 31 टेस्ट मुकाबले खेले थे, उसमें गेंदबाजों ने हर मैच की पहली पारी में विरोधी टीम से 10 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई थी. यानि अफ्रीकी गेंदबाज पहली पारी में विरोधी टीम को ऑल आउट करने में सफल हुए थे.

भारत के खिलाफ सीरीज से पहले दक्षिण अफ्रीका ने जो 31 टेस्ट मुकाबले खेले थे उसमें विरोधी टीम ने पहली पारी में औसत 248 रन बनाए थे. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बीते 31 टेस्ट मैचों में किसी भी टीम का बल्लेबाज अफ्रीकी गेंदबाजों को ज्यादा देर तक नहीं खेल पाता था. लेकिन भारत आते ही अफ्रीकी गेंदबाजों का जादू हवा हो गया.

 

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीत तीन टेस्ट मैचों की सीरीज होनी है. पुणे में अभी दूसरा टेस्ट मुकाबला खेला जा रहा है. भारत ने विशाखापटनम में पहली पारी में 7 विकेट के नुकसान पर 136 ओवरों में 502 रन बनाए थे, जबकि पुणे टेस्ट मैच में भारत ने 601 रनों पर पारी घोषित की. अगर दोनों पारियों के रनों और ओवरों को जोड़ दे तो इस हिसाब से भारतीय टीम ने पहली पारी में कुल 292.3 ओवर खेलते हुए 1103 रन बना डाले है. इस दौरान अफ्रीकी गेंदबाजों को मात्र 12 विकेट ही हासिल हुए. यह आंकड़े इस बात की तसदीक कर रहे है कि भारत में अफ्रीकी गेंदबाजों की हालत कितनी पतली है.

इतना ही नहीं भारतीय गेंदबाजों के सामने अफ्रीकी बल्लेबाद क्रीज पर टीक नहीं पाए. पहले मैच की पहली पारी में जरूर डी काक और एल्गर ने शतकीय पारी खेली लेकिन भारत से मिले पहाड़ जैसे स्कोर का पीछा करने उतरी अफ्रीकी टीम को जिस तरह की शुरूआत चाहिए थी वो सलामी बल्लेबाज उसे नहीं दे पाए. एशियाई जमींन पर साल 2015 के बाद से अफ्रीका का टीम ने जो भी टेस्ट मैच खेले हैं उसमें कभी भी सलामी बल्लेबाजों के बीच 36 रनों से अधिक की साझेदारी नहीं हो पाई है.

किंग्स इलेवन पंजाब ने इस दिग्गज भारतीय को बनाया टीम का कोच, अश्विन के भविष्य का करेगें फैसला

First published: 11 October 2019, 21:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी