Home » क्रिकेट » india vs south africa third test day one ind out for 187 run at wanderers johannesburg sa 6 for 1 at stumps virat kohli fifty
 

IND Vs SA: बल्लेबाजों ने रखी हार की नींव, टीम इंडिया एक बार फिर गेंदबाजों के भरोसे

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 January 2018, 8:51 IST
(icc twitter page)

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन में 72 और सेंचुरियन में 135 रनों से लगातार दो टेस्ट हारने के बाद जोहान्सबर्ग के वांडर्स स्टेडियम में होने वाले सीरीज के आखिरी मुकाबले में भी भारतीय टीम के सामने हार का खतरा मंडराने लगा है. भारतीय बल्लेबाजों ने जिस तरह से बल्लेबाजी की उसे देखकर लग रहा है कि यह मैच भी भारतीय टीम हार सकती है.

सिरीज़ में अभी तक भारतीय बल्लेबाज़ी संघर्ष करती दिखी है और बुधवार का प्रदर्शन भी बहुत उत्साहजनक नहीं रहा. आख़िरी टेस्ट के पहले दिन भारतीय पारी 187 पर सिमट गई. एक समय चार विकेट खोकर 144 पर खेल रही भारतीय टीम 187 तक पहुंचते-पहुंचते ताश के पत्तों की तरह ढह गई. विराट कोहली ने 54 और चेतेश्वर पुजारा ने 50 रन बनाए.

यहां भी एक गेंदबाज(भुवनेश्वर कुमार) ने आकर लाज बचाई. भुवनेश्वर कुमार ने 30 रन बनाकर थोड़ा संघर्ष करने की कोशिश की लेकिन दूसरी तरफ़ से कोई सहयोग न मिलने के चलते कुछ ख़ास कर नहीं पाए. दक्षिण अफ़्रीका ने अगर कोहली के 11 और 32 रन पर दो कैच न गिराए होते तो भारत का प्रदर्शन और खराब भी हो सकता था.

icc twitter page

इससे पहले भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी का फ़ैसला किया. आखिरी मैच के लिए भारतीय टीम ने अंतिम एकादश में दो बदलाव किए हैं. टीम इंडिया ने इस बार किसी विशेषज्ञ स्पिनर को अंतिम एकादश में जगह नहीं दी है. दो मैच से बाहर बैठने वाले अजिंक्य रहाणे को रोहित शर्मा के स्थान पर टीम में चुना गया है जबकि भुवनेश्वर कुमार को आर.अश्विन की जगह टीम में रखा गया है.

पिछले तकरीबन डेढ़ साल में भारतीय टीम ने जिस स्थिति में दूसरी टीमों को पहुंचाया आज उसी स्थिति में वह खुद खड़ी हुई है. साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज गंवा बैठी विश्व की नंबर-एक टेस्ट टीम के सामने अब क्लीन स्वीप से बचकर अपना सम्मान बचाने की मुश्किल चुनौती है.

First published: 25 January 2018, 8:47 IST
 
अगली कहानी