Home » क्रिकेट » Indian cricketer Mahendra Singh Dhoni announces retirement from international cricket
 

महेंद्र सिंह धोनी ने लिया बड़ा फैसला, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से किया संन्यास का ऐलान

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 August 2020, 21:39 IST

भारतीय क्रिकेट टीम (India National Cricket Team) के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) ने अंतरराषष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है. बता दें, धोनी विश्व कप के 12वें संस्करण (World Cup 2019) के सेमीफाइनल मुकाबले के बाद से ही टीम इंडिया (Team India)  से दूर हैं. भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे सफल कप्तानों में शुमार धोनी के बारे में कहा जा रहा था कि वो इस साल आईसीसी टी20 विश्व कप खेलेंगे और इसके लिए उन्हें आईपीएल का इंतजार था. लेकिन कोरोना वायरस के असर के कारण इस साल अक्टूबर में होने वाले टी20 विश्व कप को स्थगित कर दिया गया.

महेंद्र सिंह धोनी ने अपने संन्यास की घोषणा का ऐलान करते हुए इंस्टाग्राम पर पोस्ट किया था. धोनी ने लिखा,"प्यार और सपोर्ट के लिए ध्नयवाद, आज 7:29से मुझे रिटायर समझा जाए."महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने 28 साल बाद विश्व कप अपने नाम किया था. इतना ही नहीं धोनी ने साल 2007 में टीम इंडिया को पहली बार टी20 विश्व कप में जीत दिलाई थी. इतना ही नहीं उनके कप्तान रहते ही टीम इंडिया साल 2013 में चैंपियन ट्राफी अपने नाम करने में सफल हुई थी.


धोनी ने साल 2004 में बांग्लादेश के खिलाफ अपना वनडे में डेब्यू किया था. हालांकि, वो इस सीरीज में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए थे और तीन वनडे मैचों की सीरीज में महज 19 रन बनाने में सफल हुए थे. हालांकि, पाकिस्तान के खिलाफ साल 2005 में हुई वनडे सीरीज के दौरान वो अपनी लय में दिखे थे, जहां उन्होंने छह मैचों की सीरीज के दूसरे वनडे जो 5 अप्रैल 2005 को खेला गया था, उसमें उन्होंने 148 रनों की पारी खेली थी.

महेंद्र सिंह धोनी ने भारतीय टीम के लिए अभी तक 350 वनडे मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 50.6 से अधिक की औसत के साथ 10773 रन बनाए हैं. उन्होंने वनडे में 183 रनों की पारी खेली जो श्रीलंका के खिलाफ आई थी. धोनी एकमात्र ऐसे कप्तान हैं जो आईसीसी की तीनों चैंपियनशिप जीतने में सफल हुए हैं. महेंद्र सिंह धोनी करीब एक दशक तक भारतीय टीम में रहें और इस दौरान उन्होंने विकेट के पीछे अपनी एक अलग पहचान बनाई. धोनी विकेट के पीछे से जिस तरह के खेल को पढ़ते हैं, शायद ही कोई ऐसा पढ़ता हो. धोनी अपने कप्तीन और मैदान पर अपने शांत व्यवहार के कारण कैप्टन कूल भी कहलाते हैं.

दिसंबर 2014 में धोनी ने अचानक से टेस्ट क्रिकेट से संन्यास का ऐलान किया था. धोनी ने भारत के लिए 90 टेस्ट खेले हैं जिसमें 144 पारियों में उन्होंने 38.1 की औसत से 4876 रन बनाए हैं. धोनी ने साल 2017 में विराट कोहली को वनडे और टी20 की कप्तानी सौप दी थी. बता दें, धोनी की कप्तानी के दौरान ही टीम इंडिया पहली बार टेस्ट क्रिकेट में नंबर वन पोजिशन पर पहुंची थी.

धोनी आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान हैं और उनकी कप्तानी में टीम तीन बार आईपीएल का खिताब अपने नाम करने में सफल हुई है. कहा जा रहा है कि धोनी आईपीएल खेलना जारी रखेंगे.

कोरोना वायरस से संक्रमित पूर्व भारतीय क्रिकेटर की किडनी हुई फेल, रखा गया लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर

First published: 15 August 2020, 20:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी