Home » क्रिकेट » IPL 2020: Extra No Ball Umpire but no Power Player
 

IPL 2020: नो बॉल जांचने के लिए होगा अतिरिक्त अंपायर लेकिन इस बार नहीं होगा पावर प्लेयर

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 November 2019, 14:17 IST

आईपीएल गवर्निंग काउंसिल ने अगले सत्र के लिए नियमों में कुछ बड़े बदलाव किए है. IPL 2020 में गेंदबाजों की नो बॉल की जांच करने के लिए विशेष रूप से एक अंपायर नियुक्त करने की योजना बनाई गई है. बता दें, आईपीएल के बीते सत्रों में अंपायरो द्वारा कई मौके पर ऐसे निर्णय दिए गए थे जिसमें गेंदबाज ने नो बॉल फेंकी थी लेकिन अंपायर ने उसे नो बॉल नहीं दी. जिसके कारण मैच पर रूख तक बदल गया था. जिसके बाद आईपीएल में भारतीय अंपायरों की गुणवत्ता को लेकर चिंता बढ़ गई थी.

वहीं आईपीएल गवर्निंग काउंसिल में पॉवर प्लेयर को लेकर भी चर्चा की गई. हालांकि अगले सत्र में पॉवर प्लेयर नहीं होगा.इससे पहले इस बात के कयास लगाए जा रहे थे कि सप्ताह के अंत में शुरू होने वाली सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी राष्ट्रीय टी-20 चैम्पियनशिप में ‘पावर प्लेयर’ सब्स्टीट्यूशन का प्रयोग नहीं हो सका जिसके कारण इसे अगले सत्र के लिए ना कह दिया गया है.

पूर्व टेस्ट बल्लेबाज बृजेश पटेल की अध्यक्षता में हुई आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की बैठक में क्रिकेट मुख्यालय में कई मुद्दो पर चर्चा हुई जिसमें एफटीपी विंडो, विदेशी खिलाड़ियों की उपलब्धता, भारतीय टीम के एफटीपी और फ्रैंचाइजी द्वारा विदेश में खेलने की संभावना शामिल है. हालाँकि विवादास्पद फ्रंट-फुट और ऊँचाई की नो बॉल पर जाँच करने के लिए एक विशेष अंपायर की बात एजेंडे में मुख्य रूप से शामिल रही.

आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की बैठक के बाद एक वरिष्ठ सदस्य ने संवाददाताओं से कहा,'अगर सब ठीक रहा, तो अगले इंडियन प्रीमियर लीग के दौरान, आप नियमित अंपायरों के अलावा एक और अंपायर को देख सकते हैं, जो नो-बॉल की जांच करेगा. यह बात अजीब लग रही है, लेकिन यह पहली आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की बैठक में चर्चा किए गए मुद्दों में से एक था.'

'हम टेक्नोलॉजी का उपयोग करना चाहते हैं. हम केवल नो-बॉल देखने के लिए एक और अंपायर रख रहे हैं. एक अंपायर होगा, जो केवल नो-बॉल पर केंद्रित होगा. और वह तीसरे या चौथे अंपायर नहीं होंगे.'

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने आईपीएल के दौरान भारतीय अंपायर एस रवि के साथ काफी बहस भी हुई थी. मुंबई इंडियंस के गेंदबाज लसिथ मलिंगा द्वारा नो-बॉल थी. हालांकि अंपायर ने इसे नो-बॉल नहीं दी जिसके कारण रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को भारी कीमत चुकानी पड़ी थी. वहीं पावर प्लेयर के प्रयोग पर अधिकारी ने कहा,'इस मामले पर चर्चा की गई थी, लेकिन सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के दौरान लागू करने के लिए बहुत कम समय है.'

BCCI का बड़ा फैसला- इस बार नहीं होगी IPL में ओपनिंग सेरेमनी

First published: 6 November 2019, 11:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी