Home » क्रिकेट » Kapil Dev’s previous employer Modi Spinning and Weaving company pays him pending pf dues of Rs 2.75 lakhs after 36 long years
 

कपिल देव को 36 साल बाद मिला PF का पैसा, मोदी मिल्स में करते थे काम

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 July 2018, 9:59 IST

हर किसी का पास्ट होता है, हर किसी की जिंदगी में कुछ न कुछ घटा होता है जिसे कोई तो याद रखना चाहता है कोई भूलना चाहता है. ऐसा ही एक पास्ट टीम इंडिया को पहली बार विश्व विजेता बनाने वाले कप्तान कपिल देव के साथ भी जुड़ा है, जो वाकई हैरान करने वाला है.

हालांकि, कपिल देव का ये पास्ट उनको करीब चार दशक के बाद इतनी खुशी देगा शायद उन्हें इसका अंदाजा भी नहीं होगा. आपको बता दें, साल 1983 में टीम इंडिया को पहला वर्ल्ड कप जिताने वाले कपिल देव उससे पहले करीब 3 साल तक एक कंपनी के लिए काम कर चुके थे.

खबरों के मुताबिक, कपिल देव ने मोदी स्पिनिंग एंड वीविंग मिल्स में बतौर लायजनिंग ऑफिसर काम किया था. कपिल देव ने इस कंपनी में साल 1979 से 1982 के दौरान काम किया था. यह मामला तब सामने आया जब 36 साल के बाद कंपनी ने कपिल देव का बकाया चुकाया.

ये भी पढ़ेंः रोहित शर्मा ने वर्ल्ड कप 2019 को लेकर कही ये बात, भारत को इंग्लैंड में बताया...

दरअसल, कंपनी ने कपिल देव का 2.75 लाख रुपए प्रोविडेंट फंड(पीएफ) क्लियर किया है. क्रिकटेकर की खबर के मुताबिक कपिल देव ने मोदी स्पिनिंग एंड वीविंग मिल्स की दिल्ली इकाई में लायजनिंग ऑफिसर के तौर पर काम किया था. हालांकि मिल तो साल 1994 में बंद हो गई थी लेकिन इसकी कंपनी अभी भी चल रही है.

अब इस कंपनी के सचिव ने बताया कि वह अपने कुछ पुराने रिकॉर्ड्स की जांच कर रहे थे जिसमें पता चला कि कपिल देव का प्रोविडेंट फंड अब भी बचा हुआ है, इसके बाद कंपनी ने कपिल देव से संपर्क करके उनसे अपनी सारी बकाया राशि कंपनी से ले जाने के लिए आग्रह किया.

ये भी पढ़ेंः आज इंग्लैंड के खिलाफ 'तिहरा शतक' जड़ सकते हैं एमएस धोनी, जानिए कैसे

मोदी स्पिनिंग एंड वीविंग कंपनी ने इसी साल जनवरी में कपिल देव के खाते में राशि जमा करा दी है. हालांकि कपिल देव की तरफ से इसकी पुष्टि नहीं की गई है. कंपनी के मैनेजर राजेंद्र शर्मा ने कहा है कि कपिल ने इस ग्रुप को कंपनी डायरेक्टर और क्रिकेट एडमिनिस्ट्रेटर याई के मोदी के कहन पर ज्वॉइन किया था.

First published: 12 July 2018, 9:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी