Home » क्रिकेट » Kings XI Punjab Captain Ravichandran Ashwin might Go with Delhi Capitals
 

कुंबले के रोकने के बावजूद किंग्स इलेवन पंजाब का साथ छोड़ सकते हैं अश्विन!

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 November 2019, 12:38 IST

इंडियन प्रीमियर लीग में बीते दो साल से किंग्स इलेवन पंजाब की कमान संभाल रहे स्पिन गेंदबाज आर अश्विन को लेकर अभी भी तस्वीर साफ नहीं हो पाई है. बीते महीने ही किंग्स इलेवन पंजाब ने पूर्व भारतीय खिलाड़ी अनिल कुंबले को कोच नियुक्त किया था. अनिल कुंबले ने कोच का पद संभालने के बाद साफ तौर पर कहा था कि अश्विन टीम से बाहर नहीं होंगे. जबकि दूसरी तरफ किंग्स इलेवन पंजाब के सहमालिक नेस वाडिया ने ऐसी सभी खबरों का खंडन किया था जिसमें अश्विन को टीम से बाहर का रास्ता दिखाने की बात कही जा रही थी.

बता दें, विश्व कप के 12वें संस्करण के बाद से ऐसी मीडिया रिपोर्ट आई थी जिसमें दावा किया गया था कि किंग्स इलेवन पंजाब अश्विन को दिल्ली कैपिटल्स के साथ ट्रेड कर सकती है. वहीं इसके बदले दिल्ली कैपिटल्स अपने एक खिलाड़ी को पंजाब को देगी. लेकिन किंग्स इलेवन पंजाब द्वारा इन खबरों का खंडन किया जाने के बाद ऐसी सभी खबरों पर विराम लग गया था.

लेकिन एक बार फिर यह खबरें जोर पकड़ रही है. न्यूज एंजेसी पीटीआई से बात करते हुए बीसीसीआई के एक अधिकारी जो आईपीएल में खिलाड़ियों की ट्रेड डील पर नजर रखते है उन्होंने इस बात का खुलासा किया है. अधिकारी ने नाम ना बताने की शर्त पर कहा,'जी हां, अश्विन दिल्ली कैपिटल्स में शामिल हो रहे हैं. यह डील पहले नहीं हो पाई थी क्योंकि क्योंकि दिल्ली अश्विन के बदले पंजाब को खिलाड़ी देने पर राजी नहीं थी, लेकिन अब दिल्ली इसके लिए राजी हो गई है.' हालांकि अभी तक यह तय नहीं हो पाया है कि दिल्ली अश्विन के बदले किन दो खिलाड़ियों को पंजाब को दे रही है.

वहीं दूसरी तरफ अगर अश्विन दिल्ली के साथ जाते हैं तो ऐसे में केएल राहुल को फायदा हो सकता है. कहा जा रहा है कि के एल राहुल को पंजाब का कप्तान बनाया जा सकता है. इसका एक कारण भी हैं राहुल पंजाब के साथ बीते कई सत्रों से जुड़े हुए है. ऐसे में वो टीम की कमजोरियों और उसकी ताकत को अच्छे से जानते हैं.

IPL 2020: नो बॉल जांचने के लिए होगा अतिरिक्त अंपायर लेकिन इस पावर प्लेयर को कहा ना

First published: 6 November 2019, 12:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी