Home » क्रिकेट » kohli should have given chance to Prithvi Shaw in 4th test match
 

विराट कोहली के इस फैसले ने डुबोई टीम इंडिया की लुटिया, सिरीज हारकर चुकानी पड़ी कीमत!

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 September 2018, 9:30 IST

भारत और इंग्लैंड के बीच साउथम्‍पटन टेस्‍ट में भारत को 60 रन से हार का सामना करना पड़ा है. चौथे टेस्ट मैच में जीत के साथ ही इंग्लैंड ने टेस्ट सिरीज में 3-1 की अजेय बढ़त बना ली है.

इस टेस्ट मैच में हार के बाद से विराट कोहली की कप्तानी की आलोचना की जा रही है. तो आइये जानते है विराट कोहली के किस फैसले की वजह से टीम इंडिया को हार का सामना करना पड़ा है.

चौथे टेस्ट से पहले टीम में युवा बल्लेबाज़ पृथ्वी शॉ को टीम में शामिल किया गया था. बेहद शानदार फॉर्म में चल शॉ की जगह विराट कोहली ने केेएल राहुल को टीम में शामिल किया था.

विराट कोहली हमेशा से ही मौजूदा फॉर्म को तवज्जों देते हैं, लेकिन राहुल का प्रदर्शन विदेशों में पिछली 13 पारियों में बेहद ख़राब रहा हैं. राहुल ने 28, 10, 4, 0, 16, 4, 13, 8, 10, 23, 36, 19 और 0 रन बनाए हैं. इस दौरान उनका औसत से सिर्फ 13.12 का रहा है.

वहीं अगर शॉ के प्रदर्शन की बात करें तो उनके प्रदर्शन राहुल से कई गुना बेहतर है. उनके इंग्लैंड के हालिया प्रदर्शन की बात करें तो उन्होंने 3 शतक और 2 अर्धशतक जड़े हैं. वेस्ट इंडीज ए के खिलाफ 188, 102 और लीस्टर के खिलाफ 132 रनों की पारी खेली थी.

 

जून-जुलाई में इंग्लैंड दौरे पर पृथ्वी ने 8 मैचों की 10 पारियों में 60.3 की औसत से कुल 603 रन बनाए थे. ऐसे में साफ़ है कि  विराट कोहली के इस फैसले ने टीम इंडिया की लुटिया डूबों दी.इसके अलावा फर्स्ट क्लास क्रिकेट में उनका औसत 56.72 का है. वह सात शतक और पांच अर्द्धशतक जमा चुके हैं.

First published: 3 September 2018, 9:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी