Home » क्रिकेट » Kuldeep Yadav recalls debut Test against Australia in Dharamsala Anil Kumble
 

कुलदीप यादव ने अनिल कुंबले को लेकर किया बड़ा खुलासा, डेब्यू मैच में रखी थी शर्त

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 May 2020, 20:10 IST

भारतीय क्रिकेट टीम (India National Cricket Team) के स्पिन गेंदबाज कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) एक ऐसे गेंदबाज हैं जिन्होंने वनडे में दो हैट्रिक ली है, उनके अलावा कोई भी गेंदबाज ऐसा नहीं कर पाया है. कुलदीप यादव ने साल 2017 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट में डेब्यू किया था और टेस्ट में उनका पहला शिकार ऑस्ट्रेलिया (Australia Cricket Team) के सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर (David Warner) बने थे. वहीं अब इस खिलाड़ी ने अपने डेब्यू मैच को लेकर कई खुलासे किए है.

क्रिकबज से बात करते हुए कुलदीप यादव ने कहा कि अपने पहले डेब्यू मैच को लेकर कहा है कि टीम इंडिया के पूर्व कोच अनिल कुंबले (Anil Kumble) ने उन्हें उनके डेब्यू की जानकारी दी थी और इतना ही नहीं उन्होंने उनके सामने एक शर्त भी रखी थी.


कुलदीप यादव ने कहा,"मैं धर्मशाला में किए अपने टेस्ट डेब्यू के बारे में याद करके भावुक हो जाता हूं. मेरे लिए जो उस वक्त सबसे ज्यादा जरूरी बात थी कि कैसे प्रदर्शन करना है. मुझे वो दिन याद है, अनिल सर मेरे पास आए थे और कहा आप कल के मुकाबले में खेलेंगे, आपको पांच विकेट हासिल करने होंगे."

कुलदीप यादव ने आगे कहा,"यह सुनकर मैं कुछ समय के लिए शांत हो गया और इसके बाद बोला हां सर, मैं 5 विकेट जरूर हासिल करूंगा. शिवरामाकृष्णन ने मुझे मेरी टेस्ट कैप दी थी. उन्होंने मुझे कुछ सलाह भी दी, मुझे याद नहीं है क्या थी वो क्योंकि उस वक्त मैं बिल्कुल ही समझ नहीं पा रहा था क्या हो रहा है. मैं बहुत ही ज्यादा दबाव महसूस कर रहा था, मैं काफी नर्वस भी था. मुझे लग रहा था यह बहुत बड़ा मंच है मैं यहां कैसे प्रदर्शन कर पाउंगा."

वहीं इस दौरान कुलदीप यादव ने बताया कि उन्हें पहले मैच में वार्नर को एक प्लान के तहत अपना शिकार बनाया था. इस खिलाड़ी ने कहा,"लंच तक मैं इस बात का प्लान बना रहा था कि डेविड वार्नर का विकेट कैसे हासिल करना है. मैंने फैसला लिया कि उनको दो चार फ्लाइट डिलिवरी करूंगा ताकि वो आगे आकर खेलें. इसके बाद मैं फ्लिपर डालूंगा हो सकता है वो बैटफुट पर खेलने की कोशिश करें और विकेट के पीछे कैच हो जाए और ऐसा ही हुआ भी."

बता दें, कुलदीप यादव ने अपने पहले टेस्ट मैच की पहली पारी में चार विकेट हासिल किए थे जबकि दूसरी पारी में उन्हें कोई सफलता हासिल नहीं हुई थी. हालांकि, टीम इंडिया ने यह मुकाबला आठ विकेट से अपने नाम किया था.

केएल राहुल के सफल प्रदर्शन के कारण बढ़ गई है धोनी की परेशानी, वापसी में होगी मुश्किल- एमएसके प्रसाद

First published: 2 May 2020, 19:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी