Home » क्रिकेट » mitchell santner Revealed IPL 2019 When MS Dhoni have to Apologize Umpire
 

जब अंपायर की गलती के कारण गुस्से में लड़ने मैदान पर आ गए थे धोनी, चेन्नई के खिलाड़ी ने बताया क्या हुआ था मैच के बाद

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 May 2020, 20:06 IST
CSK

आईपीएल 2019 (IPL 2019) में चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) और राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) के बीच का वो मुकाबला कोई भी फैस नहीं भूला होगा जिसमें धोनी (MS Dhoni) गुस्से से मैदान पर आ गए थे और उन्होंने अंपायरों के साथ बहस की थी. महेंद्र सिंह धोनी की पहचान मैदान पर एक कूल कप्तान की है लेकिन उनके इस रूप को देखकर हर कोई हैरान रह गया था.

हुआ ये था


दरअसल, उस मैच में चेन्नई सुपर किंग्स को आखिरी ओवर में 18 रनों की जरूरत थी. धोनी और जडेजा बल्लेबाजी कर रहे थे और राजस्थान के लिए बेन स्टोक्स गेंदबाजी कर रहे थे. बेन स्टोक्स की पहली गेंद पर जडेजा ने छक्का लगाया लेकिन बेन से वापसी की और उन्होंने इसके दो गेंद बाद ही धोनी को आउट किया. जब धोनी आउट हुए तब चेन्नई को जीत के लिए तीन गेंदों पर 8 रन चाहिए थे. धोनी के आउट होने के बाद सेंटनर बल्लेबाजी के लिए आए थे.

बेन स्टोक्स ने उन्हें फुलटॉस गेंद फेंकी, गेंद सेंटनर की कमर से ऊपर थी, नियमों के अनुसार यह नॉ-बॉल होनी चाहिए थी. अंपायर ने इसके लिए हाथ उठाया लेकिन उन्होंने बाद में अपना निर्णय बदल लिया. अंपायर के इस फैसले के बाद धोनी काफी गुस्सा हो गए थे और वो फील्ड पर ही अंपायर से बहस करने आ गए थे.

सेंटनर ने कही ये बातें

वहीं अब सेंटनर ने चेन्नई सुपर किंग्स के साथ लाइव वीडियो चैट पर कहा,"मैं सभी की तरह हैरान था. धोनी काफी शांत खिलाड़ी है. लेकिन इससे पता चलता है कि वह अपनी टीम के लिए कितना समर्पित है. यह गुस्सा नहीं था, एक अंपायर ने अपना फैसला दे दिया तो वो उसे वापस नहीं ले सकता."

चेन्नई सुपर किंग्स यह मैत जीतने में सफल हुई थी क्योंकि सेंटनर ने आखिरी गेंद पर छक्का लगाया था. इस पर सेंटनर ने कहा,"मुझे लगता है कि हम जीतें तो सभी चीजें अच्छी हुई, अगर ऐसा नहीं होता तो चीजें और खराब हो जाती. ये वो पल था जो सबको साथ लाता है. इसके बाद हमने कई मैच जीतें. अगर आप मैच जीतते हैं तो उससे आपका आत्मविश्वास बढ़ता है. यह परफेक्ट गेम नहीं था, लेकिन इससे अलग समय पर अलग खिलाड़ी उभरकर सामने आते हैं."

हालांकि, धोनी ने अपने इस आचरण के लिए मैच के बाद अंपायर से माफी भी मांगी थी और उन पर 50 फीसदी मैच का जुर्माना लगा था. सेंटनर ने कहा,"मैच के बाद मैं बाहर गया तो मैंने देखा धोनी अंपायरों के साथ खड़े हुए हैं. उन्हें पता था कि उन्हें मैदान पर जाने की अनुमति नहीं है. इसके लिए उन्होंने सीधा माफी भी मांगी. धोनी की वजह से स्टोक्स प्रभावित हुए और उन्होंने मुझे छक्का लगाने के लिए एक अच्छी गेंद दी. मैं इससे काफी खुश हूं."

क्या टीम चुनने में धोनी दोस्तों के लिए करते थे पक्षपात? आरपी सिंह ने दिया ये जवाब

First published: 11 May 2020, 19:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी