Home » क्रिकेट » Mithali Raj was 'aloof, difficult to handle', Ramesh Powar says bcci
 

मिताली से विवाद को लेकर रमेश पोवार ने लगाए उल्टे आरोप, कही ये बड़ी बात

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 November 2018, 11:18 IST

भारतीय महिला क्रिकेट टीम के कोच रमेश पोवर ने बुधवार को बीसीसीआई की कमेटी से मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने मिताली राज से जुड़े विवाद पर सफाई दी. इस दौरान उन्होंने सीईओ राहुल जौहरी और जनरल मैनेजर (क्रिकेट ऑपरेशंस) सबा करीम की कमेटी को बताया कि उनके और मिताली राज के बीच रिश्ते अच्छे नहीं थे. हालांकि उन्होंने साफ़ किया कि मिताली राज को बाहर रखने की वजह सिर्फ टीम से जुड़ी हुई उनकी रणनीति थी.


बोर्ड से जुड़े एक अधिकारी ने बताया है कि रमेश पोवार ने उनके और मिताली के बीच ख़राब रिश्तों को स्वीकार कर लिया है. इसके अलावा उन्होंने साफ़ किया कि वो हमेशा से ही टीम से दुरी बनाए रहती थी, जिस वजह से उन्हें संभल पाना काफी मुश्किल था.

यह भी पढ़ें:ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सिरीज में न चुने पर छलका धवन का दर्द, दिया भावुक सन्देश



आगे बोलते हुए अधिकारी ने बताया कि उन्होंने इस दौरान साफ किया कि मिताली को टीम से बाहर रखने की वजह सिर्फ टीम से जुड़ी उनकी रणनीति थी. उन्हें विनिंग कॉम्बिनेशन के साथ मैच में उतरने की रणनीति और मिताली के खराब स्ट्राइक रेट की वजह से उन्हें टीम से बाहर रखा गया था.

वहीं जब कोच से पूछा गया कि अगर वजह से उन्हें टीम में जगह नहीं दी गई थी तो उन्हें किस आधार पर पाकिस्तान और आयरलैंड के खिलाफ टीम में जगह दी गई थी. जिस पर उनके पास किसी भी तरह का कोई भी जवाब नहीं था.

यह भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया दौरे पर कोहली को मिल रहे है 'बुरे संकेत', टेस्ट सिरीज में भी जीत मुश्किल



वहीं जब उनसे पूछा गया कि किसी बाहरी दबाव की वजह से उन्होंने मिताली राज को टीम से बाहर किया है, जिस पर उन्होंने साफ़ मना किया हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि  बोर्ड में ताकतवर जगह पर बैठा व्यक्ति टीम की मैनेजर तृप्ति भट्टाचार्य और टूर सेलेक्टर सुधा शाह से संपर्क में था.

आप को बता दें कि मिताली ने सीएओ की सदस्य डायना एडुल्जी पर आरोप लगाते थे।  इस दौरान उन्होंने  कहा कि वह भी उनके साथ सौतेला व्यवहार कर रही हैं. इसके अलावा उन्होंने कहा कि वो अपने करियर में पहली बार इतना ज्यादा हारा हुआ महसूस कर रही हैं. मैं ये सोचने के लिए मजबूर हो गई हूं कि जो कुछ भी मैं देश के लिए कर रही हूं, उसका कोई महत्त्व है या नहीं. मिताली ने डायना एल्डुजी पर निशाना साधते हुए हुए कहा था कि मैं पहले उनकी बहुत इज्जत करती थी, लेकिन उन्होंने मुझे टीम से बाहर किये जाने के फैसले का समर्थन किया है. उन्हें सब पता है. मैं खुद को अपमानित महसूस कर रही हूं. वह सारी हकीकत जानती हैं.

First published: 29 November 2018, 11:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी