Home » क्रिकेट » Mohammad Kaif said Selection committee needs to be more transparent
 

मोहम्मद कैफ ने टीम इंडिया के सेलेक्शन प्रकिया पर खड़े किए सवाल, बोले- चयन समिति में हो पारदर्शिता

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 May 2020, 0:07 IST
Mohammad Kaif

भारतीय क्रिकेट टीम (India National Cricket Team) के पूर्व खिलाड़ी इरफान पठान (Irfan Pathan) और सुरेश रैना (Suresh Raina) ने बीते दिनों ही एक इंस्टाग्राम लाइव चैट के दौरान यह मांग उठाई थी कि टीम इंडिया (Team India) का सेलेक्शन प्रोसेस और पारदर्शी होना चाहिए. इस बातचीत के दौरान इन दोनों खिलाड़ियों ने कहा था कि आखिर उन्हें टीम से क्यों बाहर किया गया इसके बारे में कभी सेलेक्टर्स ने उनसे बात नहीं की. वहीं अब इन दोनों खिलाड़ियों को अपने पूर्व साथी और टीम इंडिया के बेहतरीन फील्डर में शुमार मोहम्मद कैफ (Mohammed Kaif) का भी साथ मिला है और उन्होंने भी यह मांग उठाई है कि टीम इंडिया की सेलेक्शन प्रकिया और पारदर्शी होनी चाहिए.  

साल 2002 में इंग्लैंड (England Cricket Team) के खिलाफ हुई नेटवेस्ट सीरीज के हीरे मोहम्मद कैफ ने सोशल मीडिया वेबसाइट हेलो पर लाइव सेशन में फैन्स के सवालों का जवाब देने के दौरान कहा,"सिलेक्शन कमिटी, टीम के कोच और कैप्टन को उस खिलाड़ी से बात जरूर करनी चाहिए, जिसे टीम से बाहर किया जा रहा है. सभी खिलाड़ी देश के लिए खेलते हैं. हर खिलाड़ी का बुरा वक्त आता है. लेकिन मैनेजमेंट को खिलाड़ियों को यह बताना चाहिए कि उन्हें क्यों बाहर किया जा रहा है." 


उन्होंने आगे कहा,"इससे यह होगा कि खिलाड़ी अपनी बाहर होने की वजह जानकर घरेलू क्रिकेट में वापस आकर अपनी क्रिकेट तकनीक पर काम कर सकें." मोहम्मद कैफ ने सेलेक्शन कमेटी में पारदर्शिता की बात पर जोर देते हुए कहा कि अगर ऐसा होता है तो कोई भी मीडिया में नहीं जाएग. उन्होंने कहा,"अगर सिलेक्शन कमिटी ऐसी पारदर्शिता अपना लेती है तो कोई भी मीडिया में नहीं आएगा और किसी पर आरोप-प्रत्यारोप नहीं होगा."

भारतीय टीम के लिए 125 वनडे मैच खेल चुके मोहम्मद कैफ ने कहा कि मौजूदा स्थिति पहले के मुकाबले काफी बेहतर हैं क्योंकि खिलाड़ियों को पहले मीडिया के जरिए पता चलता था कि वे टीम से बाहर हो गए है. इस खिलाड़ी ने कहा,"पहले स्थिति और भी खराब थी तब कई खिलाड़ियों को मीडिया से ही पता चलता था कि वे टीम से बाहर हो गए हैं. यह और भी ज्यादा दुर्भाग्यपूर्ण था. वर्तमान स्थिति इतनी खराब नहीं है. लेकिन फिर भी चयन समिति, कप्तान और कोच एकसाथ बैठने की जरूरत है और इस मुद्दे पर चर्चा की जरूरत है.

वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष का बड़ा बयान, बोले- कोरोना वायरस के कारण आईसीयू में है बोर्ड

First published: 16 May 2020, 23:59 IST
 
अगली कहानी