Home » क्रिकेट » MS Dhoni becomes the 4th wicket keeper to takes 300 catches in ODI cricket history Dhoni become 1st indian wicket keeper
 

इंग्लैंड के खिलाफ धोनी ने ठोका 'तिहरा शतक', 10 हजारी बनने से हैं 33 रन दूर

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 July 2018, 18:53 IST

T20 क्रिकेट इतिहास में सबसे ज्यादा कैच और स्टंप्स करने का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने वाले एमएस धोनी ने अब वनडे में भी एक कारनामा कर दिया है. एमएस धोनी ने इंग्लैंड के खिलाफ खेले जा रही तीन मैचों की वनडे सिरीज के दूसरे मुकाबले में जोस बटलर का कैच पकड़कर क्रिकेट का एक और इतिहास रच दिया है.

जी हां, एमएस धोनी ने इंग्लैंड के खिलाफ तिहरा शतक जड़ दिया है. आपको जानकारी हैरानी हो रही होगी कि कैच पकड़ कर धोनी कैसे तिहरा शतक ठोक सकते हैं. दरअसल, एमएस धोनी ने तिहरा शतक बल्लेबाजी करते हुए नहीं बल्कि विकेट कीपिंग करते हुए लगा दिया है. इसी के साथ माही भारत के पहले विकेटकी पर बन गए हैं.

आपको बता दें, एमएस धोनी ने अब तक वनडे क्रिकेट में विकेट के पीछे 300 शिकार(केवल कैच) कर लिए हैं. धोनी ने उमेश यादव की गेंद पर जोस बटलर का कैच पकड़कर ये कारनामा किया है. गौरतलब है कि इंग्लैंड के खिलाफ खेली जारी इस सिरीज से पहले धोनी के नाम वनडे में 297 कैच थे. जो अब बढ़कर 300 हो गए हैं.

ये भी पढ़ेंः IND vs ENG: दिनेश कार्तिक को इन वजहों से मिलेगा टेस्ट सिरीज में मौका!

पहले मैच में एमएस धोनी ने जहां एक कैच पकड़ा था तो वहीं दूसरे मुकाबले में धोनी ने इंग्लैंड के पांच विकेट होने तक 2 कैच पकड़ लिए हैं. इस तरह एमएस धोनी ने 300 कैच पकड़ने के जादुई आंकड़े को छू लिया है. वैसे भी एमएस धोनी से पहले 300 कैच कोई भी भारतीय विकेटकीपर नहीं पकड़ पाया है.

हालांकि, एमएस धोनी से पहले ये कारनामा वनडे क्रिकेट में एडम गिलक्रिस्ट (417), मार्क बाउचर (402) और कुमार संगकारा (383) कर चुके हैं. वर्ल्ड क्रिकेट में ये तीन ही विकेट कीपर ऐसे हैं जिन्होंने 300 से अधिक कैच पकड़े हैं. यहां तक कि तीनों ने ही अब क्रिकेट से संन्यास ले लिया है.

वहीं, अगर वनडे क्रिकेट में स्टंपिंग की बात करें तो इस लिस्ट में एमएस धोनी इन तीनों दिग्गज विकटकीपरों से कहीं आगे हैं. धोनी ने अपने हाथों के जादू से वनडे में 107 स्टंप किए हैं. वहीं, इस लिस्ट में धोनी के बाद कुमार संगाकारा का नाम हैं, जिन्होंने 99 स्टंप आउट किए हैं.

इतना ही नहीं धोनी इस मुकाबले में ‘दस हजारी’ भी बन सकते हैं, जिसके लिए उन्हें केवल 33 रनों की जरूरत हैं. बता दें कि धोनी ने अब तक खेले वनडे मुकाबलों में 9967 रन बनाए हैं. इतना ही नहीं धोनी इंग्लैंड के खिलाफ सर्वाधिक रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज भी बन सकते हैं, जिसके लिए उन्हें कुल 99 रनों की जरूरत है.

इन दोनों के देशों के बीच वनडे में सर्वाधिक रन बनाने का रिकॉर्ड अभी युवराज सिंह (1523 रन) के नाम है. धोनी 1425 रन बनाकर तीसरे स्थान पर हैं. तेंदुलकर ने 1455 रन बनाए हैं, जबकि विराट (921 रन) इंग्लैंड के खिलाफ 1000 रन पूरे करने की दहलीज पर हैं.

First published: 14 July 2018, 18:43 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी