Home » क्रिकेट » MS Dhoni Childhood coach My sixth sense says he will play in the T20 World Cup
 

धोनी के बचपन के कोच का बड़ा बयान, बोले- टी20 विश्व खेलते आएंगे नजर

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 March 2020, 20:32 IST

पूर्व भारतीय कप्तान एमएस धोनी (MS Dhoni) के फैंस को आईपीएल (IPL 2020) का बेसब्री से इंतजार था क्योंकि विश्व कप (World Cup 2019) के बाद से ही टीम इंडिया (Team India) से बाहर धोनी आईपीएल में वापसी करने वाले थे. कोरोना वायरस (Coronavirus) के असर को देखते हुए आईपीएल को 15 अप्रैल तक स्थगित कर दिया गया. जबकि 14 अप्रैल तक के लिए पूरे देश में लॉक डाउन किया गया है ऐसे में आईपीएल की शुरूआत 15 अप्रैल के बाद हो पाएगी यह संभव तो नहीं दिखता. ऐसे में धोनी की वापसी टीम इंडिया में काफी मुश्किल है. हालाँकि, धोनी के बचपन के कोच केशव रंजन बनर्जी ( Keshav Ranjan Banerjee) अभी भी मानते हैं कि 38 वर्षीय खिलाड़ी इस साल अक्टूबर में होने वाले टी20 विश्व कप (ICC T20 World Cup) में टीम इंडिया में अपनी जगह बना सकते हैं.

केशव रंजन बनर्जी ने पीटीआई को दिए इंटरव्यू में कहा,'वर्तमान परिस्थिति में, आईपीएल की संभावना कम दिखती है और हमें बीसीसीआई के फैसले का इंतजार करना होगा. धोनी को लेकर स्थिति स्पष्ट रूप से कठिन हो जाएगी. लेकिन मेरे सिक्स सेंस कहती है कि उन्हें टी 20 विश्व कप में मौका मिलेगा, जो उनका आखिरी होगा.'


साल 2007 में टीम इंडिया को आईसीसी टी20 विश्व कप का खिताब दिलाने वाले धोनी बीते दिनों चेन्नई सुपर किंग्स द्वारा आयोजित प्रशिक्षण शिविर में भाग लेने गए थे लेकिन कोरोना वायरस के बढ़ते असर को देखते हुए सभी फ्रेंचाइजी ने अपने प्रशिक्षण प्रशिक्षण शिविर रद्द कर दिए थे. उसके बाद धोनी वापस रांची लौट आए थे. धोनी के बचपन के कोच ने आगे कहा,'चेन्नई से लौटने के बाद मैंने उनसे आखिरी बार बात की और मैं उसने माता-पिता के लगातार संपर्क में हूं. वह अपना फिटनेस प्रशिक्षण कर रहा है और पूरी तरह से फिट है. अब बीसीसीआई के फैसले का इंतजार करें. क्योंकि सभी आईसीसी टूर्नामेंट जून तक रद्द कर दिए गए है.'

आईपीएल के रद्द होने के बाद धोनी की टीम में वापसी की संभवाना काफी कम है लेकिन धोनी के कोच को लगता है कि बीसीसीआई उन्हें अपना आखिरी मैच खेलने का मौका जरूर देगी. उन्होंने कहा,'यह सच है कि उन्होंने बीते साल जुलाई के बाद से ही टीम इंडिया के लिए कोई मैच नहीं खेला है, लेकिन 538 अंतर्राष्ट्रीय मैचों खेलने वाले खिलाड़ी के लिए, मुझे नहीं लगता कि इसे समायोजित करने में ज्यादा समय लगेगा. मुझे लगता है कि उन्हें एक आखिरी मौका मिलेगा.'

First published: 27 March 2020, 20:27 IST
 
अगली कहानी