Home » क्रिकेट » munaf patel and praveen kumar to coach young bowlers in a cricket accademy
 

एक बार फिर से क्रिकेट में वापसी को तैयार मुनाफ और प्रवीण, इस भूमिका में आएंगे नज़र

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 December 2018, 11:54 IST

टीम इंडिया को 2011 में वर्ल्ड कप दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करने वाले मुनाफ पटेल और अपनी स्विंग गेंदबाज़ी से बल्लेबाज़ों को परेशान करने वाले प्रवीण कुमार एक बार फिर से क्रिकेट में वापसी कर रहे है. मुनाफ पटेल और प्रवीण कुमार जोर्डन इंटरनेशनल क्रिकेट अकादमी के तत्वाधान में उभरते तेज गेंदबाजों को तेज गेंदबाजी के गुर सिखाएंगए. जोर्डन इंटरनेशनल क्रिकेट अकादमी पांच दिनों का ट्रेनिंग शिविर लगा रहा है. ये पांच दिवसीय ट्रेनिंग शिविर 18 से 22 दिसम्बर तक संत सुजान सिंह इंटरनेशनल स्कूल में आयोजित किया जाएगा।

आप को बता दें कि मुनाफ ने भारत के लिए 2006 से 2011 के बीच 13 टेस्ट और 70 वनडे मैच खेले हैं. उनके नाम टेस्ट में 35 तथा वनडे में 86 विकेट हैं. मुनाफ महेंद्र सिंह धौनी के नेतृत्व में विश्व कप जीतने वाली टीम का हिस्सा थे. दूसरी ओर, उत्तर प्रदेश के मेरठ निवासी प्रवीण कुमार ने 2007 से 2012 केबीच भारत के लिए छह टेस्ट और 68 वनडे मैच खेले हैं. टेस्ट में प्रवीण के नाम 27 और वनडे में 77 विकेट है.

आप को बता दें कि प्रवीण कुमार 20 अक्टूबर को संन्यास की कर दी थी. इस दौरान इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए उन्होंने कहा था कि मुझे किसी भी तरह का कोई भी मलाल नहीं हैं. दिल से खेला, दिल से बोलिंग डाला. यूपी से इस समय कई प्रतिभाशाली तेज़ गेंदबाज़ आ रहे है और मैं नहीं चाहता हूँ कि मेरी वजह से उनके करियर पर असर पड़ें. अगर मैं खेलूंगा तो टीम से एक खिलाड़ी जाएगा. ये जरूरी है आप भविष्य के खिलाड़ियों को लेकर सोचे और उन्हें मौका दे. मुझे पता है मेरा समय खत्म हो गया है और मुझे ये मानना पड़ेगा. मैं खुश हूँ और मैं भगवान का धन्यवाद देना चाहता हूँ कि उन्होंने मुझे मौका दिया.

भविष्य को लेकर बात करते हुए उन्होंने कहा था कि मैं भविष्य में गेंदबाज़ी कोच बनाना चाहता हूँ. लोगों को पता है कि मेरे पास इसके लिए अनुभव है, ये केवल जगह है जहां पर मैं दिल से काम कर सकता हूँ, मैं अपने अनुभव को युवा खिलाड़ियों के साथ बांटना चाहता हूँ.

First published: 17 December 2018, 11:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी