Home » क्रिकेट » On This Day in 2001 Virendra Sehwag Made 105 Runs In Debut Test Match Against South Africa
 

On this day: सहवाग ने पहले ही टेस्ट में ये कारनामा कर गेंदबाजों को दिए थे 'बुरे दिन' आने के संकेत

अंकुल कौशिक | Updated on: 3 November 2018, 12:12 IST

टीम इंडिया का ये खिलाड़ी जब मैदान पर आता था तो वीरु-वीरु नाम से पूरा स्टेडियम गूंजता था. मैदान पर आते ही विपक्षी टीम के गेंदबाजों के छक्के छुडाने में यह खिलाड़ी बेहतरीन माना जाता था, टीम इंडिया इसे नजफगढ़ के नवाब के नाम से बुलाती है. मतलब हम बात कर रहे हैं टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी वीरेंद्र सहवाग की जिन्होंने आज ही के दिन अपने टेस्ट करियर की शुरुआत की थी.

साल 2001 में टीम इंडिया साउथ अफ्रीका दौरे पर गई यहां पर उसे मेजबान टीम के साथ दो मैचों की टेस्ट सिरीज खेलनी थी. इस सिरीज का पहला मुकाबला मंगांग ओवल ब्लूमफ़ोन्टीन के मैदान पर हुआ और इसी मैच में टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी वीरेंद्र सहवाग ने अपने टेस्ट करियर की शुरुआत की थी. सहवाग ने डेब्यू मैच में ही विपक्षी टीम के छक्के छुड़ा दिए थे, इस मैच में अफ्रीका की टीम ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया.

वहीं मैदान पर फिर टीम इंडिया की तरफ से बल्लेबाजी करने के लिए शिव सुंदर दास और राहुल द्रविड आए लेकिन वह अधिक देर मैदान पर टिक नहीं सके और दोनों खिलाड़ी 13.5 में ओवर में आउट हो गए. फिर मैदान पर वीवीएस लक्ष्मन भी अधिक देर नहीं टिक सके और वह 32 रन बनाकर आउट हो गए. सचिन तेंदुलकर ने टीम के स्कोर को बढ़ाया और 155 रन की बड़ी पारी खेली, लेकिन वह भी टीम को 288 रन पर छोड़ कर चले गए.

फिर आए मैदान पर वीरेंद्र सहवाग सभी खिलाड़ी चिंता में थे कि डेब्यू टेस्ट में क्या होगा, लेकिन मैदान पर उन्होंने आते ही विपक्षी टीम के छक्के छुड़ा दिए थे. सहवाग ने इस मैच में 173 गेंदों का सामना करते हुए 19 चौकों की मदद से 105 रन बनाए.  सहवाग ने डेब्यू टेस्ट में ही शतक ठोककर सभी की दिल जीत लिया था, सहवाग टीम इंडिया के लिए डेब्य टेस्ट में शतक ठोकने वाले 11वें खिलाड़ी थे.  हालांकि इस मैच को साउथ अफ्रीकी की टीम नौ विकेट से हार गई थी.

ये भी पढे़ं: पृथ्वी शॉ से पहले टीम इंडिया के ये 14 बल्लेबाज भी लगा चुके हैं डेब्यू टेस्ट में शतक, अब हैं टीम से गायब

सहवाग ने टीम इंडिया के लिए टेस्ट मैचों की कई शानदार परी खेली हैं और टेस्ट मैच में एक पारी में तिहरा शतक लगाने वाले वह पहले खिलाड़ी हैं. सहवाग ने टीम इंडिया के लिए दो तिहरे शतक लगाए हैं और सहवाग के बाद टीम के लिए सिर्फ करुण नायर ने तिहरा शतक लगया है. सहवाग ने टेस्ट मैच की एक पारी में 319 और 309 रन बनाए हैं, हालांकि सहवाग एक बार तीसरे तिहरे शतक से महज सात रन से चूंक गए थे, उन्होंने साल 2009 में श्रीलंका की टीम के खिलाफ 293 रन की पारी खेली थी.

ये भी पढे़ं: आज ही के दिन रोहित बने थे 'हिटमैन', छक्कों की बारिश करके उधेड़ी थी ऑस्ट्रेलिया की बखिया

First published: 3 November 2018, 12:12 IST
 
अंकुल कौशिक @AnkulKaushik

स्पोर्टस और टेक में लिखते हैं और बाकी अपने विचार है.

पिछली कहानी
अगली कहानी