Home » क्रिकेट » pakistan enters in final in champions trophy to beat England in semi final of champions trophy.
 

चैंपियंस ट्रॉफी: इंग्लैंड को 8 विकेट से हराकर पहली बार फाइनल में पहुंचा पाकिस्तान

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 June 2017, 10:56 IST

इंग्लैंड को पहले सेमीफाइनल में आठ विकेट से हराकर पाकिस्तान चैंपियंस ट्राफी के फाइनल में पहुंच गया है. पाकिस्तान ने 212 रन का लक्ष्य 37.1 ओवर में 2 विकेट खोकर आसानी से हासिल कर लिया.

पाकिस्तान की ओर से ओपनर अजहर अली ने 76 और फखर जमान ने 57 रन बनाए. इसके अलावा बाबर आजम ने 38 और मोहम्मद हफीज ने 31 रन की नाबाद पारी खेली. गुरुवार को दूसरे सेमीफाइनल में भारत और बांग्लादेश के बीच मैच है. इस मैच में जीतने वाली टीम से पाकिस्तान 18 जून को फाइनल में भिड़ेगा. 

पहली बार फाइनल में पाक

चैम्पियंस ट्रॉफी शुरू होने के बाद पिछले 19 साल में ये पहला मौका है, जब पाकिस्तान की टीम फाइनल में पहुंची है. इससे पहले वो तीन बार सेमीफाइनल पहुंचा था, लेकिन हर बार हारकर बाहर हो गया था. पाकिस्तान की टीम ने इससे पहले साल 2000, 2004 और 2009 में भी सेमीफाइनल खेला था. लेकिन तीनों ही बार उसका सफर सेमीफाइनल में हार के साथ खत्म हुआ. पाकिस्तान पहली बार इस आईसीसी टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचा है.

इंग्लैंड की खराब बल्लेबाजी

पाकिस्तान ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग करने का फ़ैसला किया. पहले खेलते हुए इंग्लैंड की पूरी टीम 49.5 ओवर में 211 रन पर ही आउट हो गई. इंग्लैंड की तरफ़ से कोई बल्लेबाज़ बड़ी पारी नहीं खेल सका.

इंग्लैंड की तरफ़ से रूट ने सबसे ज़्यादा 46 रन बनाए. उन्होंने 56 गेंदों पर 46 रन की पारी खेली. इसके बाद बेयरस्टो ने 57 गेंदों पर 43 रन बनाए. पाकिस्तान के लिए हसन अली ने बेहतरीन गेंदबाजी की. उन्होंने 10 ओवर में 35 रन देकर तीन विकेट झटके. जुनैद ख़ान और रुमान रईस को दो- दो विकेट मिले.

इस हार के साथ ही इंग्लैंड का 42 साल से आईसीसी का वनडे टूर्नामेंट जीतने का ख्वाब एक बार फिर हकीकत में नहीं बदल पाया. पाकिस्तान ने 1992 के वनडे वर्ल्ड कप के फ़ाइनल में भी इंग्लैंड को शिकस्त दी थी. इस तरह 25 साल बाद इंग्लैंड एक बार फिर बदला चुकाने से चूक गया.

First published: 15 June 2017, 10:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी