Home » क्रिकेट » Pakistan Ex Captain Inzamamul Haq accuses PCB of causing 'rift' within Pakistan team
 

पाकिस्तान के पूर्व कोच ने बोर्ड पर लगाए गंभीर आरोप, कहा- टीम में 'फूट' डाल रही पीसीबी

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 October 2020, 22:40 IST

पाकिस्तान क्रिकेट टीम (Pakistan Cricket Team) के पूर्व कप्तान इंजमामुल हक (Inzamam-ul-Haq) ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (Pakistan Cricket Board) पर आरोप लगाया है कि पीसीबी (PCB) टीम के भीरत दरार पैदा कर रही है. इंजमामुल हक ने यह आरोप पीसीबी के सीईओ वसीन खान के टेस्ट टीम का नया कैप्टन के नाम पर विचार करने के बयान देने के बाद लगाए हैं. दरअसल, इस हफ्ते की शुरुआत में, पीसीबी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वसीम खान ने कहा था कि मुख्य कोच मिस्बाहुल हक की देखरेख में टीम प्रबंधन न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट टीम की घोषणा करने से पहले अजहर अली की कप्तानी की समीक्षा करेगा.

इंजमाम ने अपने यूट्यूब चैनल पर बात करते हुए कहा कि पीसीबी के मुख्य कार्यकारी को ऐसा बयान देने के लिए जिम्बाब्वे श्रृंखला के समापन तक इंतजार करना चाहिए था. इंजमाम ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा,"पीसीबी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी के बयान के बाद पाकिस्तान की टेस्ट कप्तानी को लेकर एक नई बहस चल रही है, उन्होंने कहा कि न्यूजीलैंड दौरे के लिए टेस्ट टीम की घोषणा करने से पहले वे अजहर अली की कप्तानी की समीक्षा करेंगे. ऐसे बयानों से टीम में दरार पैदा हो सकती है. ऐसा कोई खिलाड़ी जो विवाद में होगा, वो ऐसे में खुद के लिए लॉबी करना शुरू कर देंगे और इससे टीम का माहौल खराब होगा. अगर आप कप्तान बदलना चाहते थे, तो आपको जिम्बाब्वे श्रृंखला के बाद बदलाव की घोषणा करनी चाहिए थी."


 

वसीन खान के बयान के बाद मीडिया रिपोर्ट में इस बात का जिक्र किया जा रहा है कि आखिर कौन टीम का नया कप्तान हो सकता है. इंजमाम ने आगे कहा,"कप्तानी में बदलाव के बारे में मीडिया में इस चर्चा की आवश्यकता नहीं है. कभी-कभी बोर्ड स्वयं मीडिया और प्रशंसकों से प्रतिक्रिया प्राप्त करने के लिए मीडिया में इस तरह की जानकारी लीक करता है. बोर्ड को ऐसा करने से लोगों की भावना के बारे में पता चल सकता है, लेकिन यह टीम को नकारात्मक रूप से प्रभावित करता है. इससे टीम में आत्मविश्वास और एकता भी बाधित होती है."

 

बतात चलें कि अजहर अली को पिछले साल अक्टूबर में विकेटकीपर-बल्लेबाज सरफराज अहमद की जगह कप्तानी दी गई थी. दावा किया जा रहा है कि अजहर अली ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री से घरेलू ढांचे में बदलाव को लेकर चर्चा की थी और पीसीबी इसी कारण उन्हें हटाने का विचार कर रहा है. कहा जा रहा है कि अजहर ने पीसीबी को सूचित किए बिना मुख्य कोच मिस्बाहुल हक और अनुभवी ऑलराउंडर मोहम्मद हफीज के साथ पीएम इमरान से मुलाकात की थी, जो बोर्ड के शीर्ष अधिकारियों को अच्छा नहीं लगा.

IPL 2020: चेन्नई के खिलाफ विराट कोहली ने लगाया अर्धशतक, लेकिन फिर भी नाम हुआ शर्मनाक रिकॉर्ड

First published: 25 October 2020, 22:38 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी