Home » क्रिकेट » pakistani fast bowler wasim akram says indian fast bowler are lazy unhappy with mohammed shami and jasprit bumrah
 

इस पाकिस्तानी दिग्गज को नहीं भाते भारतीय गेंदबाज, कहा- सुस्त हैं भारतीय तेज गेंदबाज

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 February 2018, 11:12 IST

एक जमाने में स्विंग के सुल्तान माने जाने वाले पाकिस्तान के तेज गेंदबाज वसीम अकरम भारतीय गेंदबाजों से उतने प्रभावित नहीं दिखते जितनी भारतीय गेंदबाजों की वर्तमान समय में तारीफ की जा रही है. भारतीय गेंदबाजों जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी में उन्हें काफी कमियां नजर आती हैं. हालांकि उन्होंने ये जरूर कहा कि मौजूदा भारतीय तेज आक्रमण आत्मविश्वास से ओत-प्रोत है.

अपने एक बयान में उन्होंने कहा कि बेशक टीम इंडिया के तेज गेंदबाज इन दिनों अच्छा प्रदर्शन कर रहे हों, लेकिन उनमें वो जज्बा और जुनून नहीं दिखाई देता जो मैदान पर एक तेज गेंदबाज में होना चाहिए.

 

स्विंग के बादशाह ने कहा कि एक तेज गेंदबाज होने के नाते भारतीय गेंदबाजों को इस तरह की गेंदबाजी करनी चाहिए, जिससे बल्लेबाज को गलती करने के लिए आमंत्रित किया जा सके. उनका मानना है कि मोहम्मद शमी अगर अपना रनअप दुरूस्त कर ले और जसप्रीत बुमराह कुछ समय काउंटी क्रिकेट खेले तो वे इंग्लैंड दौरे पर कहर बरपा सकते हैं.

उन्होंने कहा, "शमी अच्छा गेंदबाज है लेकिन कई बार मुझे लगता है कि वह सुस्त है. तेज गेंदबाज होने के नाते उसे चुस्ती के साथ बल्लेबाज को गलती करने पर मजबूर करते रहना चाहिए." उन्होंने कहा, "शमी के साथ मसला रहेगा. उसे शरीर के निचले हिस्से की मांसपेशियों पर काम करना होगा. शोएब अख्तर को भी घुटने ने परेशान किया."

तकनीकी पहलू पर पूछने पर अकरम ने कहा, अपने रनअप के समय शमी कई बार क्रीज पर पहुंचने से ठीक पहले छोटे कदम लेता है. उन्होंने कहा कि कई बार जब आप लय से भटक जाते हैं तो कदम छोटे हो जाते हैं और गेंद सटीक नहीं पड़ती. उन्होंने कहा, ‘इससे गेंदबाज की रफ्तार भी कम हो जाती है.’ उन्होंने कहा कि शमी का घुटने की चोटों का इतिहास रहा है और यह चिंता की बात है.

 

इससे पहले पूर्व तेज गेंदबाज और दिग्गज माइकल होल्डिंग ने कहा था कि बुमराह को अपने गेंदबाजी एक्शन के कारण इंग्लैंड में सफलता नहीं मिलेगी. इसके जवाब में वसीम अकरम ने कहा, "मैं माइक से इत्तेफाक रखता हूं कि इंग्लैंड की पिचों पर इस तरह के एक्शन से कामयाबी नहीं मिल सकती लेकिन यह अनुभव के साथ ही आएगा. बीसीसीआई अपने प्रमुख खिलाड़ियों को काउंटी क्रिकेट नहीं खेलने देता. बुमराह अगर कम से कम एक महीने काउंटी क्रिकेट खेले तो वह बेहतर गेंदबाज हो सकता है."

उन्होंने कहा कि भारतीय बोर्ड को बुमराह को बताना होगा कि आईपीएल छोड़कर एक महीना काउंटी खेले. उन्होंने कहा कि मौजूदा भारतीय तेज गेंदबाजों में भुवनेश्वर कुमार सर्वश्रेष्ठ है. उन्हें भुवनेश्वर कुमार दक्षिण अफ्रीका में सबसे प्रभावी तेज गेंदबाज लगा. वह दोनों तरफ से गेंद को स्विंग करा रहा है. अब अधिक रफ्तार के साथ वह और प्रभावी हो गए हैं.

First published: 9 February 2018, 11:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी