Home » क्रिकेट » 63 Not Out: Four years on from Phil Hughes’ death
 

On This Day: क्रिकेट की दुनिया वो काला दिन, जिसने पूरी दुनिया को हिला कर रख दिया था

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 November 2018, 9:51 IST

क्रिकेट की दुनिया में हमेशा से ही कोई न कोई बदलाव आता रहता है. टेस्ट क्रिकेट में एक ही ऐसा ही हादसा है,जिसने क्रिकेट को हमेशा के लिए ही बदल दिया. आज के दिन मनहूस दिन ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज़ फिलिप ह्यूज के सिर पर गेंद लग गई थी, जिस वजह से उनकी जान चली गई. फिलिप को ये गेंद साउथ ऑस्ट्रेलिया और न्यू साउथ वेल्स के मैच दौरान लगी थी. उन्हें तेज़ गेंदबाज़ सीन  एबॉट की शॉर्ट गेंद लगी थी. जिसके बाद उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था. उनकी ये चोट इतनी गंभीर थी कि वो कोमा में चले गए थे और अगले ही दिन यानि 27 तारीख को उनकी मौत हो गई थी. इस हादसे ने पूरे खेल जगत को पूरी से हिलाकर रख दिया था.



क्रिकेट में आए है बदलाव
इस घटना के बाद ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट में काफी ज्यादा बदलाव आए है. बल्लेबाज़ों ने अपनी सुरक्षा के लिए हेलमेट की मजबूती पर भी ध्यान दिया है. इसके अलावा मैदान पर विकेटकीपर और फॉरवर्ड शार्ट फाइन लेग का प्लेयर्स भी हेलमेट की मजबूती पर ध्यान देता है. वही मैदान पर भी अंपायर हेलमेट  पहन कर नज़र आते है. वहीं इस घटना ने ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को भी संवेदनशील बना दिया है. अब जब भी मैदान पर किसी खिलाड़ी को बाउंसर लगती है तो ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी फौरन पिच पर दौड़ पड़ते हैं. ऐसा कई मैचों में देखा जा चुका है.

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट गया था हिल

इस घटना के बाद ऑस्ट्रेलिया पूरी तरह से हिल गया था. फिलिप की अंतिम यात्रा में ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज क्रिकेटरों सहित तत्कालीन ऑस्ट्रेलियाई  प्रधानमंत्री टोनी  एबोट तक ने हिस्सा लिया था. हर साल इस दिन पर आज भी ऑस्ट्रेलिया में शिद्दत से शोक मनाया जाता है. इस घटना के बाद न्यूज़ीलैण्ड ने फिलिप को याद करते हुए पाक के खिलाफ मैच के दौरान एक भी बाउंसर न फेंकने का फैसला किया था.

View this post on Instagram

Thinking of you today Hugh. #408

A post shared by Steve Smith (@steve_smith49) on

First published: 27 November 2018, 9:51 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी