Home » क्रिकेट » Prithvi Shaw may scores for Team India in Test Cricket as opener Shaw smashes 7 century in 13 First Class cricket matches
 

कोहली के पास ऐसा ब्रह्मास्त्र बचा है जिसे खिलाकर टीम इंडिया इंग्लैंड से जीत जाएगी टेस्ट सिरीज!

विकाश गौड़ | Updated on: 6 August 2018, 16:23 IST

टीम इंडिया को एक इश्तेहार दे देना चाहिए कि टीम को एक कुशल ओपनर की जरूरत है! टीम इंडिया पिछले काफी टेस्ट मैचों में अपनी खराब शुरुआत की वजह से मैच तक हार चुकी है. इसकी बानगी हाल ही इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की सिरीज के पहले टेस्ट मैच में भी देखने को मिली जिसे टीम इंडिया 31 रन के अंतर से हार गई.

ऐसे में कह सकते हैं कि टीम इंडिया को एक अच्छे ओपनर की तलाश है. टीम इंडिया और कप्तान विराट कोहली की इस तलाश को एक युवा खिलाड़ी पूरा कर सकता है, जो आए दिन रन बना रहा है. रन ही नहीं टीम को अच्छी शुरुआत देकर खुद भी शतक लगाने से नहीं चूकता. यही इस खिलाड़ी की खास बात है.

दरअसल, हम बात कर रहे हैं, अंडर-19 टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ की जिन्होंने अभी तक कुल 13 फर्स्ट क्लास मैच खेले हैं, जिनमें से सात मैचों में पृथ्वी शॉ ने शतकीय पारी खेली है. ये बात दर्शाती है कि पृथ्वी शॉ कितने शानदार फॉर्म में हैं और टीम के लिए भी उपयोगी साबित हो रहे हैं.

पृथ्वी शॉ के फर्स्ट क्लास करियर की बात करें तो उन्होंने अब तक खेले कुल 13 मैचों में 1398 रन बना लिए हैं. बता दें कि पृथ्वी शॉ अभी 13वां मैच खेल रहे हैं. इसकी पहली पारी में ही पृथ्वी ने 136 रन बनाए हैं. पृथ्वी शॉ ने इन मैचों में 7 शतकों के अलावा 6 अर्धशतक भी ठोके हैं. इस बीच उनका बेस्ट स्कोर 188 रहा है. 

18 साल के पृथ्वी शॉ की बात करें तो वह पहले अंडर-19 वर्ल्ड कप और फिर इसी साल दिल्ली डेयरडेविल्स की तरफ से आईपीएल में अपना दमखम दिखा चुके हैं और खुद को इंटरनेशनल टीम के लिए साबित कर चुके हैं. हालांकि, अभी पृथ्वी शॉ को मौका नहीं मिला है लेकिन उनको जब भी मौका मिलेगा वह रन बनाएंगे.

ये भी पढ़ेंः कोहली को रोकने के लिए इंग्लैंड बना रहा है ये खतरनाक रणनीति, टीम इंडिया की बढ़ेंगी मुश्किलें

पृथ्वी शॉ ने करीब 61 के औसत और 80 के स्ट्राइक रेट से बतौर सलामी बल्लेबाज करीब 1400 रन बनाकर संकेत दे दिए हैं कि वह विराट एंड कंपनी के लिए उपयोगी साबित हो सकते हैं. वहीं, टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज कई मौकों पर असफल हुए हैं. ऐसे में पृथ्वी शॉ के पास टीम इंडिया में शामिल होने का गोल्डन चांस हैं.

File Photo

अगर इसकी आगे की कहानी कुछ इस तरह है कि टीम इंडिया इंग्लैंड में पांच मैचों की टेस्ट सिरीज खेल रही है, जिसके पहले तीन मैचों के लिए टीम का ऐलान हो गया है लेकिन बाकी बचे दो मैचों के लिए अगले कुछ दिनों में ऐलान होगा. ऐसे में भारत की सलामी जोड़ी पर निर्भर कि या तो रन बनाकर टीम को शुरुआत दें नहीं तो फिर बाहर होने के लिए तैयार हो जाएं क्योंकि पृथ्वी शॉ ही नहीं इसी दौरे पर दो शतक ठोककर रोहित शर्मा लौटे हैं. अगर शिखर धवन और केएल राहुल रन नहीं बना पाते हैं तो फिर अगले दो टेस्ट मैचों में इन पर तलवार लटक सकती है.

First published: 6 August 2018, 16:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी