Home » क्रिकेट » Pune-based cricket museum buys Azhar Ali’s bat to raise funds to fight COVID-19
 

पाकिस्तानी क्रिकेटर ने जिस बल्ले से लगाया था तिहरा शतक उसे भारत में म्यूजियम में रखा जाएगा, ये है वजह

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 May 2020, 19:45 IST
Azhar Ali

भारत में स्थित एक क्रिकेट संग्रहालय ने कोरोनावायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) के दौरान जरूरतमंदों के लिए धन जुटाने के लिए पाकिस्तान (Pakistan Cricket Team) के टेस्ट कप्तान अजहर अली (Azhar Ali) द्वारा नीलाम किया गया एक बैट खरीदा है. अजहर ने कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में अपने दो कीमती सामान नीलामी के लिए रखे थे, इसमें वो बैट भी शामिल था, जिसका इस्तेमाल कर उन्होंने 2016 में वेस्टइंडीज (West Indies Cricket Team) के खिलाफ टेस्ट में 302 रन बनाए थे और दूसरी वो जर्सी थी जो उन्होंने साल 2017 में चैंपियंस ट्रॉफी (Champions Trophy 2017) के फाइनल मैच के दौरान पहनी थी.

अजहर अली ने जो बैट और जर्सी नीलामी के लिए रखे थे उस पर पाकिस्तानी टीम के सदस्यों ने हस्ताक्षर किए थे. अजहर ने सोशल मीडिया पर इस बात की जानकारी दी है कि उन्होंने बल्ले और जर्सी दोनों के लिए 10-10 लाख रूपये बेस प्राइस रखा था और दोनों चीजें 22 लाख में बिके है. उन्होंने इस बात की जानकारी दी है कि पुणे स्थित ब्लेड क्रिकेट म्यूजियम ने रुपये 10 लाख की बोली लगातर बैट को रखीदा है.

साल 2017 में पाकिस्तानी टीम ने चैंपियन ट्राफी में टीम इंडिया को हराया था, उस मैच में अजहर ने जो जर्सी पहनी थी, उसके नीलामी के लिए काफी दिलचस्पी पैदा हुई और कैलिफोर्निया में रहने वाले पाकिस्तानी मूल के काश विलानी ने इसके लिए सबसे अधिक बोली लगाई है और उन्होंने नीलामी में आखिरी बोली 11 लाख की लगाई. वहीं न्यूजर्सी में रहने वाले एक अन्य पाकिस्तानी जमाल खान ने एक लाख रुपये का दान दिया.

बता दें, अजहर अली का यह बैट इसलिए भी खास था क्योंकि वो डे-नाइट टेस्ट मैच में तिहरा शतक जड़ने वाले पहले अंतरराष्ट्रीय बल्लेबाज है. साल 2016 में यूएई में वेस्टइंडीज के खिलाफ डे-नाइट टेस्ट मैच में उन्होंने 302 रनों की पारी खेली थी.

सुनील शेट्टी ने विश्व कप के लिए चुनी टीम इंडिया, जानिए क्या केएल राहुल को मिली जगह

First published: 8 May 2020, 19:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी