Home » क्रिकेट » Ravi Shastri said Those Who criticising Dhoni Half of them can't even tie their shoe laces
 

रवि शास्त्री का बड़ा बयान, बोले- धोनी पर बोलने वाले अपने जूतों के फीते तक सही से नहीं बांध सकते

न्यूज एजेंसी | Updated on: 26 October 2019, 18:12 IST

भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री का मानना है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष के रूप में सौरभ गांगुली की नियुक्ति भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाने की दिशा में एक सही कदम है. शास्त्री ने टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा, 'बीसीसीआइ अध्यक्ष बनने के लिए मैं सौरभ को दिल से बधाई देता हूं. उनकी नियुक्ति भारतीय क्रिकेट को सही दिशा में आगे ले जाने के लिए एक बड़ा संकेत है.'

उन्होंने कहा,'वह हमेशा से ही एक स्वाभाविक नेता रहे हैं. उनके जैसा शख्स इस पद के लिए सही है. उन्होंने इससे पहले बंगाल क्रिकेट संघ को भी चार-पांच साल तक बतौर अध्यक्ष अपनी सेवाएं दी हैं. अब बीसीसीआइ के अध्यक्ष के तौर पर उनका चयन होना भारतीय क्रिकेट के लिए सही कदम है.'

मुख्य कोच ने साथ ही कहा,'भारतीय क्रिकेट बोर्ड के लिए ये समय बड़ा परेशानी भरा था. उनको बीसीसीआइ को फिर से विशाल बनाने के लिए बहुत मेहनत करनी होगी.'

शास्त्री ने साथ ही महेंद्र सिंह धोनी के भविष्य को लेकर उन पर सवाल उठाने वालों की भी आलोचना की.

उन्होंने कहा,'धोनी पर बोलने वालों में से आधे लोग अपने जूतों के फीते तक सही से नहीं बांध सकते. देखिए कि उन्होंने देश के लिए क्या उपलब्धियां हासिल की हैं. लोग इतनी जल्दी में क्यों हैं कि वह अब संन्यास ले लें? शायद उनके पास बात करने के लिए कोई और मुद्दा नहीं है.'

कोच ने कहा,'वह खुद और जो भी उन्हें जानते हैं- सभी को पता है वह जल्दी ही इस खेल से दूर हो जाएंगे. तो फिर इसे जब होना है, तब होने दो. उनको लेकर खुद से बयानबाजी करना उनके प्रति असम्मान है.'

शास्त्री ने साथ कहा,'भारत के लिए 15 साल खेलने वाले खिलाड़ी को क्या यह नहीं पता होगा कि कब क्या करना सही होगा? धोनी ने अपने खेल से यह अधिकार पाया है कि वह खुद यह निर्णय लें कि उन्हें कब संन्यास लेना है.'

मुख्य चयनकर्ता के बयान से लगता है कि धोनी को टीम से बाहर का रास्ता दिखाया गया है!

First published: 26 October 2019, 18:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी