Home » क्रिकेट » RP Singh wonders what happened to his career and how he lost his place
 

धोनी के जिगरी दोस्त ने पूछा, मेरे करियर के साथ क्यों हुआ ऐसा, आज तक नहीं मिला जवाब

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 April 2020, 18:10 IST

साल 2007 में टीम इंडिया (Team India) को अपनी गेंदबाजी के लिए आईसीसी टी20 विश्व कप (ICC T20 World Cup) का खिताब दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले आरपी सिंह (RP Singh) को एक समय टीम में जहीर खान (Zaheer Khan) के रिप्लेसमेंट के रूप में देखा जा रहा था लेकिन यह खिलाड़ी भारतीय टीम के लिए ज्यादा नहीं खेल सका. वहीं अब इस खिलाड़ी ने इस बात का खुलासा किया है कि उसे भी इस सवाल का जवाब अभी तक नहीं मिला है कि आखिर उसका क्रिकेट करियर इतना छोटा क्यों हुआ है.

भारतीय टीम (India National Cricket Team) के पूर्व खिलाड़ी आकाश चोपड़ा के साथ बातचीत में यूपी के इस खिलाड़ी ने कहा कि उनके खेल का उनकी दोस्ती पर कोई असर नहीं पड़ा है. आरपी ने कहा,'हम दोनों ने बहुत-सा समय साथ गुजारा है. धोनी टीम के कप्तान बन गए और उनका ग्राफ लगातार ऊपर जाता रहा और मेरा नीचे, लेकिन बावजूद इसके हमारी दोस्ती पर कोई असर नहीं पड़ा. हम अब भी बात करते हैं और एक साथ घूमते हैं.'


उन्होंने आगे कहा,'मैंने धोनी से पूछा था कि मैं एक बेहतर क्रिकेटर बनने के लिए क्या करूं. धोनी ने इसका कोई जवाब नहीं दिया. बाद में उन्होंने कहा कि मैं कड़ी मेहनत कर रहा हूं, लेकिन संभव है मेरा भाग्य मेरा साथ न दे रहा हो.'

आरपी सिंह से जब यह पूछा कि गया कि उनका करियर शुरूआत से ही शानदार था लेकिन फिर वो आगे क्यों नहीं बढ़ पाया तो इसके जवाब में इस खिलाड़ी ने कहा,'मैं उस समय टॉप पर था. लेकिन मैं टेस्ट या वनडे में भी अपनी जगह नहीं बचा पाया. मैंने आईपीएल भी खेला. 3-4 सीजन में सर्वाधिक विकेट लेने वाला गेंदबाज था, लेकिन मैं ज्यादा मैच नहीं खेल पाया क्योंकि कप्तान का मुझ पर भरोसा नहीं था. जब मैंने चयनकर्ताओं से पूछा तो उनका जवाब था. राजे तू मेहनत कर तेरा वक्त जरूर आएगा.'

आरपी सिंह ने टी20 विश्व कप में काफी बेहतरीन प्रदर्शन किया था. 2007 के टी 20 विश्व कप में आरपी सिंह सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले दूसरे गेंदबाज थे लेकिन इसके बाद वो टीम इंडिया के लिए ज्यादा नहीं खेल पाए. आरपी सिंह ने भारतीय टीम के लिए महज 10 टी20 मैच खेले हैं जिसमें इस खिलाड़ी ने 15 विकेट हासिल किए हैं. इतना ही नहीं उन्होंने 14 टेस्ट मैच में 40 विकेट और 58 वनडे में 69 विकेट हासिल किए हैं. आरपी सिंह ने साल 2018 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान किया था.

ये भी पढ़े- टीम इंडिया में आने से पहले यह खिलाड़ी खेलता था शतरंज, जीत चुका है कई टूर्नामेंट

First published: 26 April 2020, 16:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी