Home » क्रिकेट » S Sreesanth seven year ban End, Bowler said- I have got freedom
 

श्रीसंत पर लगा सात साल का बैन हुआ खत्म, गेंदबाज ने कही ये बात

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 September 2020, 15:43 IST
(Twitter Image)

भारतीय क्रिकेट टीम (India National Cricket Team) के तेज गेंदबाज श्रीसंत (S Sreesanth) पर लगा सात साल का बैन आज समाप्त हो गया. श्रीसंत शायद ही अब टीम इंडिया के लिए खेल पाएंगे, लेकिन उनके घरेलू राज्य केरल ने उन्हें इस बात का भरोसा दिलाया है कि अगर वो अपनी फिटनेस साबित कर देते हैं तो उनके नाम पर विचार किया जाएगा.

बता दें, साल 2013 में आईपीएल में स्पॉट फिक्सिंग के कथित आरोपों के बाद बीसीसीआई ने इस तेज गेंदबाज को आजीवन बैन कर दिया था. हालांकि, श्रीसंत ने हार नहीं मानी और लंबी चली कानूनी प्रकिया के बाद, सुप्रीम कोर्ट ने बीसीसीआई को उनके आजीवन बैन खत्म करने का आदेश दिया था.


वहीं रविवार को बैन समाप्त होने से दो दिन पहले शुक्रवार को श्रीसंत ने ट्वीट किया,"मैं अब किसी भी तरह के आरोपों से पूरी तरह मुक्त हूं और अब उस खेल का प्रतिनिधित्व करूंगा जो मुझे सबसे अधिक पसंद है. मैं प्रत्येक गेंद पर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करूंगा फिर चाहे यह अभ्यास ही क्यों ना हो." उन्होंने आगे कहा,"मेरे पास अधिकतम पांच से सात साल का समय बचा है और मैं जिस भी टीम की ओर से खेलूंगा उसके लिए सर्वश्रेष्ठ प्रयास करूंगा."

 

श्रीसंत ने टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए कहा,"मुझे आजादी मिली है, फिर से खेलने की आजादी. यह एक बड़ी राहत है. मुझे नहीं लगता कि कोई और समझेगा कि मेरे लिए इसका क्या मतलब है." उन्होंने आगे कहा,"लंबे इंतजार के बाद मैं फिर से खेल सकता हूं, लेकिन देश में अब खेलने के लिए कोई जगह नहीं है. मैंने इस सप्ताह कोच्चि में एक स्थानीय टूर्नामेंट आयोजित करने की भी योजना बनाई ताकि मैं मैदान पर कदम रख सकूं लेकिन इसमें शामिल जोखिमों को देखते हुए इसे बदलने का फैसला किया, क्योंकि केरल में कोरोनोवायरस के मामलों की संख्या बढ़ रही है."

बता दें, कोरोना वायरस के असर के कारण भारत का घरेलू सत्र अभी तक शुरू नहीं हो पाया है और सत्र कब शुरू हो पाएगा, उसको लेकर स्थिति साफ नहीं है. ऐसे में श्रीसंत मैदान पर कब वापसी करेंगे, यह साफ नहीं है.

CSK के पूर्व खिलाड़ी का दावा- धोनी को नहीं बल्कि इस खिलाड़ी को खरीदना चाहती थी फ्रेंचाइजी

First published: 13 September 2020, 15:41 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी