Home » क्रिकेट » Sachin Tendulkar scored 200 runs on this day in 2010 make a historical record in One-Day
 

सचिन तेंदुलकर ने बनाया था ऐसा ऐतिहासिक रिकॉर्ड जिसे आज तक नहीं तोड़ पाए धोनी-विराट

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 February 2019, 12:11 IST
Sachin Tendulkar

क्रिकेट के दुनिया के भगवान सचिन तेंदुलकर जब भी मैदान में उतरते थे तो सचिन-सचिन से पूरा ग्राउंड गूंजता था. सचिन ने अपने नाम कई रिकॉर्ड बनाए है जिन्हें आजतक कोई तोड़ नहीं पाया है. तो वहीं आज 24 फरवरी की डेट भी सचिन तेंदुलकर के लिए बेहद खास है. इस दिन सचिन तेंदुलकर ने अपने नाम एक नया रिकॉर्ड दर्ज किया था और जो कि उनके हर फैन के लिए किसी तोहफे से कम नहीं था. इस रिकॉर्ड को बनाने के बाद सचिन पूरी रात सोए नहीं थे और पूरा देश उनके इस रिकॉर्ड का जश्न मना रहा था.

Ind vs Aus: ऑस्ट्रेलिया सीरीज से बाहर हुआ कोहली का ब्रम्हास्त्र, इस खिलाड़ी को मिली जगह


 

Sachin Tendulkar

बता दें कि सचिन तेंदुलकर ने 24 फरवरी 2010 यानि कि आज से ठीक 10 साल पहले वनडे में दोहरा शतक जड़ा था. सचिन के करियर का वो सबसे खास दिन और पल था जो उन्हें हमेशा याद रहेगा. 24 फरवरी को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे क्रिकेट खेलते हुए 200 रन पारी सचिन ने खेली थी. सचिन तेंदुलकर के नाम ये रिकॉर्ड तो दर्ज हुआ ही था साथ ही वनडे क्रिकेट के इतिहास में भी ये पहला दोहरा शतक था. इस ऐतिहासिक पारी को खेलने के बाद सचिन पूरी रात जगे थे और इस बात का खुलासा क्रिकेटर ने अपनी आत्मकथा 'प्लेइंग इट माइ वे' में किया था. साल 2013 में 10 नवंबर को जब सचिन इंटरनेशनल क्रिकेट से सन्यास ले रहे थे तब ये बताया गया था कि सचिन ने टेस्ट में 51 और वनडे में 49 शतक जड़े थे. 

 

 

जब सचिन ने रचा था इतिहास-

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ ग्वालियर के रूप सिंह स्टेडियम में 24 फरवरी को सचिन ने ये मैच खेला था. इस दौरान भारत ने टॉस जीता था और बैटिंग करने का फैसला लिया था. भारत के लिए सचिन और वीरेंद्र सहवाग ने ओपनिंग की थी लेकिन सहवाग इस पारी में 9 रन बनाकर आउट हो गए थे. इसके बाद सचिन की साझेदारी में दिनेश कार्तिक ने अपनी जगह संभाली थी और उनके साथ ही सचिन ने 194 रन की नाबाद पारी खेली थी. सचिन ने 90 गेंदों में 13 चौंके मारने हुए अपना शतक ठोका था. इसके बाद 28 गेंदों में 50 रन बना थे और फिर अगले 50 रन सचिन ने सिर्फ 19 गेंदों में ही जड़ दिए थे.

 

Sachin Tendulkar

इस दोहरे शतक को जड़ने वाले सचिन पहले बल्लेबाज बन गए थे और उन्होने 147 गेंदों में 25 चौकों और 3 छक्कों की मदद से 200 रनों का पारी खेली थी. सचिन के अलावा इस मैच में एमएस धोनी ने 68 रनों की पारी खेली थी और भारतीय टीम ने 50 ओवर में 3 विकेट गंवाते हुए 401 रनों का स्कोर दक्षिण अफ्रीका के लिए खड़ा कर दिया था.

रातभर नहीं सोए थे सचिन तेंदुलकर-

रिकॉर्ड बनाने के बाद होटल में आकर रात भर सचिन सोए नहीं थे और इस बात का खुलासा खुद उन्होंने किया था और कहा था,"होटल वापस, आने पर, बहुत थकान महसूस कर रहा था, सारी उत्तेजना के कारण सो नहीं पा रहा था. बेड पर जगा हुआ लेटा था और फिर मैंने अपना फोन चेक करने का सोचा और देखा कि ये मुझे बधाई देने वाले संदेशों से भरा था, जिसके जवाब देने में मुझे दो घंटे लगे. एक काम जिसे पूरा करने में मुझे दो घंटे लगे. एक ऐसा काम जिसे पूरा करने में मुझे दो दिन लगे थे."

Sachin Tendulkar

आगे सचिन ने कहा था,"मैं मानता हूं कि मैं ग्वालियर में मेरे न सो पाने की एक और वजह थी. होटेल अथॉरिटीज मेरे और धोनी दोनों को एक-एक सूइट दिया था, जो टीम के बाकी खिलाड़ियों से दूर था. मेरा सूइट काफी बड़ा था और उसमें एक प्राइवेट स्विमिंग पूल भी था.बाथरूम बड़ा था और एक ग्साल रूम उसे मेन लिविंग रूम से अलग करता था. उसके बाहर बड़े पेड़ थे और रात में, रेशम के पर्दे हवा में झूल रहे थे, मुझे ये कमरा सोने के लिए बहुत आरामदायक नहीं था. कमरे के बाहर घना अंधेरा था, मेरे चारों तरफ की विचित्र आवाजों और दृश्यों ने मुझे सबसे ज्यादा असहज किया था, और मुझे पूरी रात बाथरूम की लाइट जलाकर सोना पड़ा था."

महेंद्र सिंह धोनी के ब्रह्मास्त्र ने रचा इतिहास, कर दिखाया वो जो खुद धोनी भी नहीं कर सके

First published: 24 February 2019, 12:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी