Home » क्रिकेट » Sarfaraz Ahmed appeal ICC to do More to Retun Cricket to Pakistan
 

सरफराज अहमद ने आईसीसी से मांगी 'भीख', बोले-पाकिस्तान में कराए..

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 September 2019, 15:12 IST

पाकिस्तान के सीमित ओवर क्रिकेट के कप्तान सरफराज अहमद ने ICC से अपली की है कि उन्हें पाकिस्तान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को वापस लाने के लिए अधिक से अधिक प्रयास करने चाहिए. विश्व कप के 12वें संस्करण में पाकिस्तान के खराब प्रदर्शन के बाद से माना जा रहा था कि सरफराद अहमद को कप्तानी से हाथ धोना पड़ सकता हैं हालांकि बीते शुक्रवार को पीसीबी ने ऐलान किया कि सरफराज अहमद अभी पाकिस्तान के कप्तान बने रहेंगे.

पाकिस्तान का कप्तान बनने के बाद सरफराज अहमद मीडिया के सामने आए और उन्होंने श्रीलंकाई टीम के खिलाड़ियों द्वारा पाकिस्तान के दौरे पर आने से मना करने पर अपने विचार रखे. उन्होंने कहा,'मैं इस बारे में कुछ जानता और कुछ बता भी नहीं सकता कि श्रीलंका की टीम को धमकी देने के पीछे किसका हाथ है. लेकिन मैं यह सोचता हूं कि ICC और बोर्ड मेंबरों को अधिक से अधिक प्रयास किए जाने चाहिए जिससे में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट वापस पाकिस्तान में आ सके.'


उन्होंने आगे कहा,'हाल में जब ईस्टर के मौके पर श्रीलंका में बम धमाके हुए थे, उस दौरान जब सभी लोग इस बात पर चर्चा कर रहे थे कि क्या श्रीलंका में कभी क्रिकेट वापस आएगा उस दौरान पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने हमारी अंडर 19 टीम को श्रीलंका भेजा था.'

हालांकि सरफराज अहमद ने इस दौरान साफ तौर पर इस बात को कहा कि पाकिस्तानी खिलाड़ी श्रीलंकाई खिलाड़ियों से बस इस बार की प्रार्थना कर सकते है कि वो पाकिस्तान के दौरे पर आए. हाल के दिनों में जितने भी विदेशी खिलाड़ी पीएसएल में खेलने के लिए पाकिस्तान आए उन्हें पूरी सुरक्षा प्रदान की गई है.

सरफराज अहमद ने साफ कहा कि पाकिस्तान में बीते कुछ सालों में सुरक्षा पर ख़ासा ध्यान दिया गया है. हमने सफलता पूर्वक बिना किसी समस्या के क्रिकेट का आयोजन किया है और उस दौरान सुरक्षा को लेकर कोई खतरा नहीं हुआ है.

बता दें, साल 2009 में पाकिस्तान दौरे पर आई श्रीलंका की टीम आतंकी हमला हुआ था. इस हमले में श्रीलंकाई टीम के 6 सदस्य घायल हुए थे. जिसके बाद श्रीलंका की टीम ने कई सालों तक पाकिस्तान का दौरा नहीं किया था. 

ऑस्ट्रेलिया के इस खिलाड़ी से छूटा बड़ा कैच, तो मैदान पर ही तोड़ लिया अपना हाथ!

First published: 14 September 2019, 15:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी