Home » क्रिकेट » Shahid Afridi reveals he used Sachin Tendulkar's bat and made sensational 37 ball century
 

Video: सचिन का बैट 'चोरी कर' अफरीदी ने बनाया था वर्ल्ड रिकॉर्ड, 37 गेंदों में शतक ठोक मचा दी थी सनसनी

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 May 2019, 19:04 IST

4 अक्टूबर 1996, इस दिन क्रिकेट की दुनिया में एक ऐसे तूफान ने जन्म लिया था जिसे देख विश्वभर के दिग्गजों ने दांतों तले अपनी अंगुली दबा ली थी. इस दिन नैरोबी में एक अनोखा क्रिकेटर अपना पहला मैच खेल रहा था. नाम था शाहिद अफरीदी. पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच इस मैच में पाक की तरफ से तीसरे नंबर पर बैटिंग करने के लिए शाहिद अफरीदी नाम का बैट्समैन उतरा.

पहले ही मैच में ठोका था शतक

अपने पहले ही मैच में अफरीदी ने श्रीलंका के गेंदबाजों की बखिया उधेड़ ली थी. अफरीदी ने इस मैच में मात्र 37 गेंदों में शतक मार सनसनी फैला दी थी. अफरीदी ने अपनी इस पारी में 6 चौके और 11 तूफानी छक्के लगाए थे. इससे पहले एक मैच में 11 छक्के किसी भी बल्लेबाज ने नहीं लगाए थे.

जयसूर्या का रिकॉर्ड किया था ध्वस्त

अफरीदी ने सनथ जयसूर्या के 48 गेंद में शतक के विश्व रिकॉर्ड को चकनाचूर कर दिया था. इस पारी के बाद से ही दुनिया में 'बूम-बूम' अफरीदी पैदा हुआ था. अफरीदी का 37 गेंदों में शतक का यह वर्ल्ड रिकॉर्ड 19 साल तक रहा था. साल 2015 में उनका यह रिकॉर्ड टूटा था. इस रिकॉर्ड को न्यूजीलैंड के कोरी एंडरसन ने साल 2015 में तोड़ा था. कोरी ने वेस्टइंडीज के खिलाफ महज 36 गेंदों में शतक जड़ा था.

सचिन के बैट से बनाया था रिकॉर्ड

लेकिन क्या आप जानते हैं कि अफरीदी ने यह विश्व रिकॉर्ड शतक एक तरह से 'चोरी किये' हुए बैट से बनाया था? यह बैट किसी और का नहीं बल्कि 'क्रिकेट के भगवान' सचिन तेंदुलकर का था. अफरीदी ने हाल ही में अपनी किताब 'गेम चेंजर' में यह खुलासा किया है.

अफरीदी ने अपनी किताब में बताया कि साल 1996 में श्रीलंका के खिलाफ मात्र 37 गेंदों में बनाया शतक उन्होंने क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर के बैट से मारा था. अफरीदी ने अपनी किताब में लिखा, "सचिन ने वकार यूनुस को अपना बल्ला सियालकोट(खेल के सामान के लिए विश्व प्रसिद्ध) भेजकर उसे दिखाकर वैसा ही बल्ला मंगाने के लिए दिया था. वकार ने सियालकोट भेजने से पहले मुझे उस बल्ले के बारे में बताया. मैंने उस दिन इसी बल्ले से बल्लेबाजी की और शतक ठोक दिया." 

फिर कभी नहीं बना पाए 37 गेंदों में शतक

जाहिर सी बात है इस बल्ले के बारे में सचिन तेंदुलकर को कुछ भी नहीं पता था और उनसे पूछे बगैर ही अफरीदी ने उनके बल्ले का इस्तेमाल किया. सचिन जो क्रिकेट के भगवान है उनका बल्ला कैसे उनकी इज्जत नहीं रखता. फिर सचिन के बल्ले ने कमाल कर दिया और उस दिन दुनिया को बूम-बूम अफरीदी मिला. हालांकि इसके बाद अपने इतने लंबे करियर में अफरीदी कभी दोबारा 37 या उससे कम गेंदों पर शतक नहीं लगा पाए. उस दिन शतक अफरीदी ने ही नहीं सचिन के बल्ले ने भी लगाया था. 

IPL 2019: हार्दिक पांड्या के साथ इस एक्ट्रेस ने डाली फोटो तो अभद्रता पर उतरे लोग, लिखा..

IPL 2019: प्लेऑफ से पहले धोनी के लिए सबसे बड़ी मुसीबत, CSK से बाहर हुआ यह स्टार खिलाड़ी

First published: 6 May 2019, 18:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी