Home » क्रिकेट » Sir Donald Bradman most famous duck in cricket history Bradman bold on 0 and miss 100 Average In test Cricket on 14th August, 1948
 

सर डॉन ब्रैडमैन को आखिरी मैच में रिकॉर्ड बनाने के लिए चाहिए थे 4 रन लेकिन ऐसे चकनाचूर हुए अरमान

विकाश गौड़ | Updated on: 14 August 2018, 12:31 IST
(File Photo)

क्रिकेट के इतिहास में 14 अगस्त का दिन बेहद खास है. ये दिन क्रिकेट के दो दिग्गजों के लिए बड़ा अहम था. 14 अगस्त को जहां एक क्रिकेट के दिग्गज के करियर का अंत हुआ. वहीं, एक दूसरे दिग्गज के करियर को नए आयाम मिले. ये क्रिकेटर्स अपने आप में महानतम हैं. जी हां, हम बात कर रहे हैं क्रिकेट के 'सर' डॉन ब्रैडमैन और क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर की. इन दोनों ही महान क्रिकेटर्स के उत्थान और अवसान की यादें इंग्लैंड की सरजमीं से जुड़ी हुई हैं. 

सर डॉन ब्रैडमैन की याद इंग्लैंड से साल 1948 से जुड़ी हैं तो वहीं सचिन तेंदुलकर की याद उनके 38 साल बाद यानी 1990 की हैं. 14 अगस्त 1948 को सर डॉन ब्रैडमैन ने जहां क्रिकेट से संन्यास लिया था. वहीं, सचिन तेंदुलकर ने 14 अगस्त 1990 को अपने शतकों के महाशतक के कारवां की शुरुआत की थी. सचिन ने मैनचेस्टर में इंग्लैंड के खिलाफ अपने करियर का पहला अंतरराष्ट्रीय पहला शतक जड़ कर अपने शतकों के शतक के अभियान की शुरुआत की थी. 

File Photo

जहां सचिन ने शतक जड़ा था तो वहीं अपने करियर का आज ही के दिन 1948 में ओवल के मैदान पर अपनी आखिरी मैच में जीरो पर बोल्ड हो गए. इसी के साथ सर डॉन ब्रैडमैन अपने करियर की एक बड़ी बुलंदी को छूने से चूक गए थे. सर डॉन ब्रैडमैन के लिए यह एक सपने जैसा था कि वह इस पारी में 4 रन भी नहीं बना पाए और वो सपना दूसरी ही गेंद पर चकनाचूर हो गया. सर डॉन ब्रैडमैन को एरिक हॉलीज ने बोल्ड किया था.

ये भी पढ़ेंः शोएब अख्तर ने चीटिंग से सचिन को किया रन आउट तो गुस्साए दर्शकों ने पाकिस्तानियों का किया ये हाल

File Photo

ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज सर डॉन ब्रैडमैन ने अपनी आखिरी पारी इंग्लैंड के खिलाफ खेली. इस टेस्ट मैच को भले ही ऑस्ट्रेलिया ने पारी और 149 रनों से जीत लिया हो लेकिन सर डॉन ब्रैडमैन इस मैच में जीरो पर बोल्ड होकर एक महान कीर्तिमान रचने से चूक गए थे. अगर सर डॉन ब्रैडमैन इस पारी में चार रन भी बना लेते तो उनके टेस्ट करियर का औसत 100 रन प्रति मैच हो जाता. लेकिन ह़ॉलीज ने उनके अरमानों पर उनकी गिल्लियां उड़ाकर पानी फेर दिया.

ये भी पढ़ेंः ग्रेग चैपल को 10 साल बाद टीम इंडिया के इस खिलाड़ी ने दिया है मुंह तोड़ जवाब, जानिए पूरी कहानी

आखिरी टेस्ट मैच की पारी में सर डॉन ब्रैडमैन अपने करियर के 100 के एवरेज को नहीं छू पाए. इस अनोखे कीर्तिमान को हासिल करने से तो सर डॉन ब्रैडमैन चूके ही साथ में अपने करियर के 7000 रन बनाने से भी मरहूम रह गए. सर डॉन ब्रैडमैन के नाम टेस्ट क्रिकेट के 52 मैचों की 80 पारियों में 6996 रन हैं. हालांकि अभी भी उनका औसत 99.94 का है, जो किसी भी टेस्ट प्लेयर से ज्यादा है. उनके इस रिकॉर्ड के आसपास भी कोई बल्लेबाज नहीं है.

First published: 14 August 2018, 12:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी