Home » क्रिकेट » Sri Lanka scores 952 runs in Test Cricket Against India on this Day in 1997 Highest Inning Total In Test Cricket
 

टीम इंडिया के खिलाफ इस टीम ने ठोके 952 रन और 60 साल बाद मिट्टी में मिल गए टेस्ट के सारे रिकॉर्ड

विकाश गौड़ | Updated on: 6 August 2018, 18:08 IST
(File Photo)

साल 1997 के अगस्त में टीम इंडिया श्रीलंका दौरे पर दो टेस्ट मैच खेलने के लिए गई थी. इस सिरीज का पहला टेस्ट मैच 2 से 6 अगस्त को इंडिया और श्रीलंका के बीच कोलंबो के आर प्रेमदासा स्टेडियम में खेला गया. इस मैच में टीम इंडिया के कप्तान थे सचिन तेंदुलकर जिन्होंने इस मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया.

टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी की और 167.3 ओवरों में 8 विकेट खोकर 537 रन बना लिए और पारी की घोषणा कर दी. इसके बाद जो हुआ वो टेस्ट क्रिकेट के 100 साल से ज्यादा के इतिहास में कभी नहीं हुआ. भारत को आज ही के दिन वो जख्म मिला जो शायद ही कभी भर पाए.

दरअसल, इस मैच में जहां भारतीय टीम ने कप्तान सचिन तेंदुलकर की 143 रन, मोहम्मद अजहरुद्दीन की 126 रन और सलामी बल्लेबाज नवजोत सिंह सिद्दू की 111 रन की पारी की बदौलत पहली पारी में भारत ने मेजबान श्रीलंका के सामने स्कोरबोर्ड पर 537 रन टांग दिए थे. भारतीय टीम ने पहली पारी के लिए करीब पौने दो दिन का समय लिया.

श्रीलंका की ओर से कप्तान अर्जुन रणतुंगा ने कुल 7 गेंदबाजों का इस्तेमाल किया, जिनमें से पार्ट टाइम गेंदबाज सनत जयसूर्या सबसे ज्यादा सफल हुए. जयसूर्या को तीन अहम विकेट मिले, जबकि मुथैयी मुरलीधरन और रविंद्र पुष्पकुमारा को दो-दो विकेट मिले. इसके अलावा चमिंडा वास को एक विकेट मिला. इस मैच में मुरलीधरन और जयंत सिल्वा ने 100-100 रन से ज्यादा रन लुटाए.

File Photo

इसके बाद जब मेजबान श्रीलंका के सामने मैच बचाने और भारत के स्कोर(537 रन) को पार करने के लिए श्रीलंका को टिक कर खेलना था. यही कर दिखाया श्रीलंका के सलामी बल्लेबाज सनत जयसूर्या और नंबर तीन पर बल्लेबाजी करने आए रोशन महानमा ने. दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 576 रन की साझेदारी कर डाला.

इस मुकाबले में सनत जयसूर्या ने 340 रन की पारी खेली तो वहीं रोशन महानमा ने 225 रन बनाए. इन दो बल्लेबाजों के अलावा अरविंद डीसिल्वा ने 126 रन की पारी खेली और टीम के स्कोर को नई ऊंचाईंया दीं. इसके बाद कप्तान अर्जुन रणतुंगा ने 88 और महेला जयवर्धने ने 66 रन बनाए. 

File Photo

इसी के साथ टेस्ट क्रिकेट इतिहास के सारे रिकॉर्ड टूट गए जो इस मैच से 60 साल पहले बना था. दरअसल, श्रीलंका ने टेस्ट क्रिकेट की एक पारी में भारत के खिलाफ 952 रन बना लिए थे, जो कि किसी भी टेस्ट मैच की एक पारी से कहीं ज्यादा थे. इससे पहले साल 1938 में इंग्लैंड ने 903 रन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाए थे.

ये भी पढ़ेंः कोहली के पास ऐसा ब्रह्मास्त्र बचा है जिसे खिलाकर टीम इंडिया इंग्लैंड से जीत जाएगी टेस्ट सिरीज!

इस मैच में भारतीय कप्तान सचिन तेंदुलकर ने इन लंबी-लंबी साझेदारियों को तोड़ने के लिए क्या कुछ नहीं किया था. सचिन इस मुकाबले में कुल 8 गेंदबाजों से बॉलिंग कराई थी जो कुलमिलाकर 6 विकेट ले पाए थे. इस मैच में खुद सचिन और फिर राहुल द्रविड़ ने गेंदाबजी की थी.

ये भी पढ़ेंः स्मृति मंधाना ने 19 छक्के जड़कर अपने नाम किया बड़ा रिकॉर्ड

इतना ही नहीं राजेश चौहान और अनिल कुंबले ने तो 200-200 रन से ज्यादा रन खर्च कर डाले थे और मिला था केवल एक-एक विकेट. हालांकि, ये मैच बेनतीजा रहा था और इसके हीरे रहे थे सनत जयसूर्या जिन्होंने तिहरे शतक के अलवा तीन विकेट भी लिए थे.

First published: 6 August 2018, 18:04 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी