Home » क्रिकेट » Steve Waugh says the ball tampering has made such a big difference due to the disruption to the officials
 

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव वॉ का बड़ा खुलासा, इसलिए हुई थी केपटाउन टेस्ट में बॉल टैम्परिंग !

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 October 2018, 11:15 IST

केपटाउन टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों द्वरा दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हुई बॉल टैम्परिंग के मामले में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीव वॉ ने एक बड़ा बयान दिया है. वॉ ने कहा कि अधिकारियों की ओर से हुई ढील के कारण बॉल टैम्परिंग ने इतना बड़ा रूप लिया है.

 

वॉ ने कहा, "ऐसा करना शर्मनाक है लेकिन मेरा मानना है कि अधिकारियों की ओर से दी गई ढील के कारण यह घटना हुई. बीते समय में कई कप्तान ऐसे रहे हैं, जिन्होंने बॉल टैम्परिंग की है लेकिन उन्हें बेहद कम सजा मिलती थी. ऐसे में किसी भी छोटी गलती में कोई सजा नहीं दी जाती थी. इसी ढील और आजादी के कारण बॉल टैम्परिंग जैसा मुद्दा नियंत्रण के बाहर हो गया."

इसके साथ ही ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों द्वारा की गई बॉल टैम्परिंग की हरकत को बेवकूफी और हास्यास्पद करार देते हुए वॉ ने कहा, "ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों ने इस हरकत के कारण पिछले कुछ वर्षो में बने वातावरण में वास्तविकता से साथ अपना संपर्क खो दिया. इस कारण पूरे क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की छवि पर दाग लग गया. स्मिथ ने कहा कि वह इस गलती को नहीं दोहराएंगे, लेकिन उन्हें नहीं पता कि उन्होंने कितनी बड़ी गलती की है. इसी गलती के कारण एक व्यक्ति की उनके प्रति असल सोच के साथ स्मिथ ने अपना संपर्क खो दिया."

गौरतलब है कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले गए मैच के दौरान ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव स्मिथ, उप-कप्तान डेविड वॉर्नर और गेंदबाज कैमरून बेंक्रॉफ्ट ने सैंड पेपर का इस्तेमाल कर गेंद के साथ छेड़छाड़ की कोशिश की थी. बॉल टैम्परिंग के लिए स्मिथ और वॉर्नर पर एक-एक साल का प्रतिबंध लगाया गया था, वहीं बेंक्रॉफ्ट पर नौ माह का प्रतिबंध लगाया गया.

ये भी पढ़ें: शोएब अख्तर ने कोहली की तारीफ में पढ़े कसीदे, साथ ही दिया ये 'विराट' चैलेंज

First published: 28 October 2018, 19:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी