Home » क्रिकेट » Sunil Gavaskar recalls when Imran Khan challenge pushed him make him extend his plans to retire
 

इमरान खान की ये बात गावस्कर के दिल पर ऐसी चुभी कि घमंड तोड़ने के लिए वापस लिया संन्यास का फैसला

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 August 2018, 14:07 IST
(file photo )

पूर्व क्रिकेटर इमरान खान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बन गए हैं. उन्होंने शुक्रवार को पीएम पद की शपथ ग्रहण की. पूर्व भारतीय क्रिकेटर और दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने अपनी दोस्ती को याद करते हुए कहा कि इमरान खान ने उनको संन्यास लेने से रोका था. इमरान खान ने कहा था कि अभी आप संन्यास नहीं ले सकते हैं. पाकिस्तान अगले साल भारत का दौरा करेगा. मैं भारत को भारत में हराना चाहता हूं. आपके बिना मजा नहीं आएगा.

गावस्कर ने कहा कि मैंने भारत के इंग्लैंड दौरे के बाद संन्यास लेने की योजना बनाई थी तब इमरान खान ने उनको संन्यास लेने से रोका था. उनको पता चल गया था कि मैं रिटायरमेंट की योजना बना रहा हूं. इमरान खान ने मुझे लिखा, अगर आप उस दौरे में भारतीय टीम का हिस्सा नहीं होंगे तो इसमें वो मजा नहीं आएगा. चलो एक आखिरी बार एक-दूसरे का सामना करें.'

पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा कि साल 1996 में मैं लंदन के एक भारतीय रेस्तरां में लंच कर रहा था. मैंने कहा था कि अगर पाकिस्तान के भारत दौरे का ऐलान आखिरी टेस्ट से पहले नहीं हुआ था, तो मैं अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से अपने संन्यास की घोषणा कर दूंगा. हालांकि इसके कुछ दिनों के बाद दौरे का ऐलान हो गया.

पाकिस्तान के खिलाफ तीन मैचों की सिरीज खेली गई. पहले दो टेस्ट ड्रॉ रहे थे. आखिरी टेस्ट में पाकिस्तान ने जीत हासिल कर पहली बार भारतीय सरजमीं पर टेस्ट सिरीज जीती थी. मैंने इस सिरीज के बाद भी संन्यास का ऐलान नहीं किया. मैं इस सिरीज के कुछ समय बाद लॉर्ड्स में 200 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में होने वाले MCC के टेस्ट मैच में खेलना चाहता था. इसके लिए टीम का ऐलान हुआ. इस मैच में मेरे और इमरान के बीच 182 रनों की साझेदारी हुई.

ये भी पढ़ें- सुनील गावस्कर- विराट कोहली की मदद के लिए BCCI तुरंत इन्हें इंग्लैंड भेजे

First published: 18 August 2018, 14:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी