Home » क्रिकेट » Team India Former Player Virender Sehwag became sultan of social-media
 

'मुल्‍तान के सुल्‍तान' नहीं, इस जहां के भी 'बादशाह' हैं वीरेंद्र सहवाग

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 July 2018, 14:28 IST
(file photo )

टीम इंडिया के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग भले ही क्रिकेट को अलविदा कह चुके हैं, लेकिन वो आज ' मुल्तान के सुल्तान' ही नहीं बल्कि सोशल मीडिया के भी सुल्तान बन गए हैं. सहवाग सोशल मीडिया में सबसे ज्यादा सक्रिय रहने वाले क्रिकेटर हैं. उनके मजेदार ट्वीट हमेशा चर्चा में बने रहते हैं. फैंस को वीरू के ट्वीट बहुत पसंद आते हैं.

सहवाग फेटबुत, ट्विटर हर जगह अपनी सक्रियता दिखाते रहते हैं. चाहे कोई सोशल मुद्दा हो या फिर किसी खिलाड़ी को जन्मदिन की बधाई देनी हो वीरू के ट्वीट अनोखे होते हैं. उनके ट्वीट मजेदार और हंसाने वाले होते हैं. सोशल मीडिया पर खिलाड़ियों के निजी और व्यावसायिक जीवन पर नजर रखने वाली टीएसडी कंपनी का भी मानना है कि सोशल नेटवर्किंग साइट पर जितने भी क्रिकेटर सक्रिय रहते हैं उनमें सहवाग का नाम सबसे ऊपर होता है.

सहवाग को हाल ही में सोशल मीडिया सर्वे में सबसे मनोरंजक और सूचनात्मक सोशल मीडिया हैंडलर के खिताब से नवाजा गया है. टीएसडी कॉर्प कंपनी के सह-संस्थापक पंकज राहुल सिंह ने ईमेल के जरिए दिए इंटरव्‍यू में कहा, "सहवाग, सचिन तेंदुलकर, मोहम्मद कैफ, हरभजन सिंह और इरफान पठान, ऐसे खिलाड़ी हैं जो सोशल मीडिया पर सबसे ज्यादा सक्रिय रहते हैं और लगातार अपनी तस्वीरें पोस्ट करते रहते हैं." कंपनी का कहना है कि ये खिलाड़ी इंस्टाग्राम पर 50 प्रतिशत, ट्विटर पर 40 प्रतिशत और फेसबुक पर 10 प्रतिशत सक्रिय रहते हैं. इनमें तीनों सोशल नेटवर्किंग साइट पर सहवाग सबसे ज्यादा सक्रिय रहते हैं.

आपको बता दें कि टीएसडी कॉर्प कंपनी खिलाड़ियों के व्यवसायिक और व्यक्तिगत जीवन का ख्याल रखती है. कंपनी का काम खिलाड़ियों को उनके प्रशंसकों के साथ जोड़ना है. इसमें कंपनी मदद करती है. इसके साथ ही खिलाड़ियों के सोशल मीडिया पर खिलाड़ियों के लिए कंटेंट भी तैयार करती है, ताकि फैंस को खिलाड़ियों के बारे में जानकारी मिल सके. कंपनी का कहना है कि उनका काम खिलाड़ियों और फैंस के बीच दूरियों को कम करने में मदद करना है. 

कंपनी के सह-संस्थापक पंकज राहुल सिंह ने कहा शुरुआत में सोशल मीडिया का मंच नया था, उस समय उसके बदलावों से निपटना आसान काम नहीं था. लेकिन हमने उन चुनौतियों पर विजय पायी और एक कदम आगे निकल गए हैं. हमारा प्रमुख लक्ष्य ब्रांड्स को उनकी अपनी कहानी बताने, दर्शक निर्माण, और एक अद्वितीय डिजिटल अनुभव बनाने में मदद करना हैं, जिससे जुड़ाव और ब्रांड के प्रति निष्ठा बढ़े.

ये भी पढ़ें- 'द वॉल' को ICC का सलाम, क्रिकेट के सबसे बड़े अवॉर्ड से नवाजा

First published: 2 July 2018, 14:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी