Home » क्रिकेट » Team india Hed Coach Ravi Shastri rates 2011 WC win bigger than the 1983 miracle
 

'1983 विश्वकप से ज्यादा मुश्किल था धोनी के लिए टीम इंडिया को 2011 में चैंपियन बनाना'

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 June 2018, 13:03 IST
(File Photo )

टीम इंडिया के चीफ कोच रवि शास्त्री ने साल 2011 में एमएस धोनी की कप्तानी में खेले गए विश्व कप को लेकर एक बड़ा खुलासा किया है. उन्होंने कहा है कि भारतीय टीम के लिए 1983 वर्ल्ड कप से ज्यादा मुश्किल 2011 का वर्ल्ड कप जीतना था. साल 2011 में 1983 के मुकाबले टीम इंडिया पर अधिक दबाव था.

गौरव कपूर के शो ब्रेकफास्ट विद चैंपियंस में बात करते हुए रवि शास्त्री ने कहा है कि साल 1983 के मुकाबले 2011 में धोनी की कप्तानी वाली टीम इंडिया पर अधिक दबाव था. 1983 में भारतीय टीम से शायद ही किसी ने जीत की उम्मीद की थी.

1983 में भारतीय टीम अंडरडॉग थी. वहीं फाइनल में वेस्टइंडीज जैसी मजबूत टीम से सामना था. उस दौरान भारत के मुकाबले वेस्टइंडीज की टीम अधिक फेवरेट थी. वेस्टइंडीज की टीम के पास क्‍लाइव लॉयड, मेलकम मार्शल, सर विवियन रिचडर्स, जोएल गार्नर, एंडी रॉबटर्स और माइकल होल्डिंग जैसे कई बड़े खिलाड़ी थे. जिसकी वजह से लोग उसको ज्यादा पसंद कर रहे थे. उन्होंने कहा कि 1983 में भारतीय खिलाड़ियों से कहा गया था कि मैदान पर अपना वेस्ट खेल दिखाओ, आगे जो होगा उसको देखा जाएगा. इसके बाद टीम ने अपने शानदार प्रदर्शन की दम पर विश्व कप का खिताब अपने नाम कर लिया.

वहीं साल 2011 में भारतीय टीम के लिए स्थिति इसके उलट थी. धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया को खिताब का प्रबल दावेदार माना जा रहा था. इसके अलावा विश्वकप अपनी सरजमीं हो रहा था. मीडिया में इसकी चर्चाएं भी तेज थी. जिससे महेंद्र सिंह धोनी पर वर्ल्ड कप जीतने का जरूरत से ज्यादा दबाब बढ़ गया था. हालांकि धोनी ने छक्का लगाकर भारत को खिताबी जीत दिलाई. जो फैंस को हमेशा याद रहेगी. उन्होंने कहा कि मैंने दोनों विश्व कप को बहुत करीब से देखा है. मेरे हिसाब से साल 1983 के मुकाबले 2011 का विश्व कप जीतना भारत के लिए कठिन था.

आपको बता दें कि साल 1983 में खेले गए विश्व कप में रवि शास्त्री टीम का हिस्सा थे. जबकि साल 2011 के विश्व कप में वो कमेंट्री कर रहे थे. उस दौरान उन्होंने धोनी को धोनी फिनिशेस ऑफ इन स्‍टाइल की उपाधि से नवाजा था.

ये भी पढ़ें-  सिर्फ 4 विकेट लेते ही कुलदीप यादव कर देंगे ये कमाल

First published: 29 June 2018, 13:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी