Home » क्रिकेट » Virat Kohli Need to Give Chance to Rishabh Pant As Backup WicketKeeper
 

ऋषभ पंत को मौका ना देकर क्या विराट कोहली खुद के पैर पर मार रहे हैं कुल्हाड़ी

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 February 2020, 18:12 IST

भारत और न्यूजीलैंड के बीच पांच टी20 मैचों की सीरीज (India vs New Zealand T20 Series) में टीम इंडिया (Team India) अभी 4-0 से आगे है. सीरीज का आखिरी मुकाबला रविवार को खेला जाना है और उम्मीद है कि इस सीरीज के आखिरी मुकाबले में ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को मौका मिल सकता है. विश्व कप के 12वें संस्करण (World Cup 2019) के बाद से ही ऋषभ पंत को लगातार मौके दिए गए लेकिन यह खिलाड़ी इन मौको को भुनाने में सफल नहीं हो पाया. वहीं जब ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन वनडे मैचों की सीरीज (India vs Australia ODI Series) के पहले मुकाबले में जब पंत चोटिल हुए तो उनकी जगह टीम में केएल राहुल (KL Rahul) को बतौर विकेटकीपर आजमाया गया. ऐसे में विराट कोहली (Virat Kohli)एक बार फिर वहीं गलती कर रहे है तो विश्व कप के बाद से वो करते आए है.

ऋषभ पंत के दौरान की गलती

विश्व कप के 12वें संस्करण के बाद से ही ऋषभ पंत को लेकर टीम मैनेजमेंट ने रणनीति बनाई की उन्हें लगातार मौका दिया जाए. पंत को धोनी के विकल्प के तौर पर देखा गया. लेकिन उस दौरान किसी भी व्यक्ति ने इस बात की तरफ ध्यान नहीं दिया कि अगर पंत चोटिल होते है तो उनकी जगह कौन विकेटकीपिंग करेगा और वो भी तब जब पंत ना सिर्फ बल्ले से बल्कि विकेट के पीछे भी अहम मौके पर विफल हुए. विश्व कप के बाद से ही लगातार बार बार इस बात की चर्चा की जा रही थी आखिर पंत का विकल्प कौैन होगा.

 

ऋषभ पंत को मौका ना देकर भी गलती


ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज के पहले मुकाबले में जब ऋषभ पंत चोटिल हुए तब केएल राहुल को दस्ताने थमाए गए. केएल राहुल ने ना सिर्फ विकेट के पीछे जबकि विकेट के आगे भी बेहतरीन प्रदर्शन किया. हालांकि न्यूजीलैंड के खिलाफ तीसरे मुकाबले में जीत दर्ज करने के बाद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने साफ किया कि चौथे मुकाबले के लिए टीम में बदलाव होंगे. हालांकि उम्मीद थी कि ऋषभ पंत को मौका मिलेगा लेकिन ऐसा हुआ नहीं. टीम में संजू सैमसन को मौका दिया गया लेकिन उन्हें दस्ताने नहीं थमाएं गए.

 

ऐसे में सवाल खड़ा होता है कि आखिर विराट कोहली ऋषभ पंत को मौका क्यों नहीं दे रहे है. क्योंकि अगर टीम केएल राहुल को बतौर विकेटकीपर रखना चाहती है तो टीम को उसी दौरान टीम को अपना बैकअप विकेटकीपर को भी मौका देना होगा. क्योंकि अगर राहुल चोटिल होते हैं तो ऐसी स्थिति में उस खिलाड़ी को मौका दिया जाए.

भारत के आगे झुका पाकिस्तान, यूएई में होगा एशिया कप का आयोजन- रिपोर्ट

First published: 1 February 2020, 17:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी