Home » क्रिकेट » virender sahwag and former cricketers slam india and attacks on virat kohli for bhuvneshwar and dhawan drop in centurion test
 

इस दिग्गज क्रिकेटर ने फाइनली कह दिया, 'खुद को टीम से बाहर कर दें विराट कोहली'

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 January 2018, 10:19 IST

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच तीन टेस्ट मैचों की सिरीज का दूसरा मुकाबला कल से सेंचुरियन में खेला जा रहा है. जब खेल शुरू हुआ था तो टीम इंडिया के प्लेइंग इलेवन को देखकर कई लोग आश्चर्यचकित रह गए थे. इसे लेकर कई पूर्व कप्तानों और दिग्गजों ने कप्तान कोहली पर सवाल भी उठाए.

धवन को बाहर किए जाने पर पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने कप्तान कोहली पर हमला बोल दिया है. सहवाग ने कहा कि विराट कोहली अगर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट के असफल रहते हैं, तो उन्हें खुद को अंतिम एकादश से बाहर कर देना चाहिए.

पूर्व भारतीय बल्लेबाज लक्ष्मण भी कोहली के फैसले से हैरान थे. उन्होंने कहा, ‘आज अंतिम एकादश में भुवी को नहीं देखना आश्चर्यजनक था. पहले टेस्ट में उसने नई गेंद के इस्तेमाल का अपना कौशल दिखाते हुए सबसे ज्यादा 6 विकेट चटकाये थे और फिर संयम से खेलते हुए अच्छी बल्लेबाजी भी की थी, क्या इसमें कुछ कमी थी?

इसके अलावा पूर्व भारतीय गेंदबाज विनोद कांबली ने भी टीम चयन पर सवाल उठाते हुए ट्वीट किया, 'विराट और टीम प्रबंधन अपने खिलाड़ियों को हैरान कर रहा है और हमें संशय में डाल रहा है.’

वहीं भारत के पूर्व तेज गेंदबाज आरपी सिंह ने ट्वीट किया,‘धारणा सच नहीं होती, लेकिन यह इन दिनों सच्चाई से बड़ी है, शायद तभी भुवी अंतिम एकादश का हिस्सा नहीं है.

इसके पहले दिग्गज क्रिकेटर सुनील गावस्कर ने भी चयन पर सवाल उठाते हुए कहा था, 'मेरा मानना है कि शिखर धवन बलि का बकरा बनाया गया है और उसके सिर पर हमेशा तलवार लटकी रहती है. बस एक खराब पारी के बाद उसे टीम से बाहर कर दिया जाता है.' गावस्कर ने कहा, ‘मेरी समझ से परे है कि ईशांत को भुवनेश्वर की जगह क्यो चुना गया. ईशांत टीम में शमी या बुमराह की जगह ले सकता था, लेकिन भुवनेश्वर को बाहर रखना समझ से बाहर है'.

वहीं दक्षिण अफ्रीका के महान तेज गेंदबाज डोनाल्ड ने अपने ट्विटर हैंडल पर दक्षिण अफ्रीका के वर्नोन फिलैंडर का जिक्र करते हुए लिखा, ‘समझ नहीं पा रहा हूं कि आप उस गेंदबाज को ऐसे गेंदबाज (इशांत शर्मा) के लिये कैसे छोड़ सकते हो जो ज्यादा बाउंस हासिल कर पा रहा हो. भुवनेश्वर की गेंदबाजी इतनी सटीक है कि उसे छोड़ना इसी तरह है जैसे दक्षिण अफ्रीका अपने तेज गेंदबाज वर्नोन फिलैंडर को बाहर रख दें.’

गौरतलब है कि सेंचुरियन टेस्ट के पहले दिन साउथ अफ्रीका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए दिन का खेल समाप्त होने तक 6 विकेट गंवाकर 269 रन बना लिए हैं. फिलहाल केपटाउन में खेले गए पहले मैच में जीत हासिल करते हुए दक्षिण अफ्रीका ने तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त बना ली है. अब उसकी नजरें इस मैच मे जीत हासिल करते हुए सीरीज अपने नाम करने पर होगी. वहीं भारतीय टीम यह मैच जीतकर सीरीज में बराबरी करने की कोशिश करेगी.

First published: 14 January 2018, 10:12 IST
 
अगली कहानी