Home » क्रिकेट » Virender Sehwag was grabbed by the collar by the John Wright in the Indian dressing-Room
 

जब सहवाग का कॉलर पकड़ कर कोच ने कहा, बोरिया-बिस्तर बांध लो

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 October 2018, 12:12 IST

टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग आज अपना 40वां जन्मदिन मना रहे हैं, वीरु ने अपनी टीम के लिए कई रिकॉर्ड बनाए हैं जिन पर वह आज भी कब्जा जमाए हुए हैं. मैदान पर सहवाग बेखौफ अंदाज से खेल कर विपक्षी टीम की छक्के छुड़ाते थे. एक बार मैदन पर सहवाग को गलत शॉट खेलना भारी पड़ गया था, इनके इस शॉट पर कोच ने उनका कॉलर तक पकड़ लिया था.

 

बता दें कि टीम इंडिया साल 2002 में नेटवेस्ट ट्रॉफी खेल रही थी और उस समय टीम इंडिया के कोच न्यूजीलैंड के पूर्व क्रिकेटर जॉन राइट थे. इस ट्रॉफी में सहवाग ने बैखोफ अंदाज से खेलते हुए अपने बल्ले से गलत शॉट निकला जिस पर वह आउट होकर पवेलियन लौट गए.

इस बात को लेकर कोच बहुत गुस्सा हुए थे और गलत शॉट खेलने की वजह से उन्हें ड्रेसिंग रूम में कोच से खूब डांट खानी पड़ी थी. यह मामला यहीं नहीं शांत हुआ था कोच जॉन ने सहवाग का कॉलर पकड़ कर उन पर चिल्लाते हुए कहा था कि अपना बोरिया-बिस्तर बांध लो. जब टीम के सदस्यों ने यह सब देखा तो उन्होंने इस मामले को शांत कराया, फिर इसके बाद सहवगा ने भी कोच से वादा किया कि वह आगे से इस तरह की गलती नहीं करेंगे.

हालांकि सहवाग ने कभी भी इस बात को गलत तरीके से नहीं लिया था. सहवाग ने एक बार कहा था कि राइट टीम के लिए दोस्त की तरह थे लेकिन खेल के मामले में वह किसी तरह की ढिलाई नहीं बरतते थे. जॉन राइट साल 2000 से 2005 तक टीम इंडिया का कोच के रूप में नियुक्त रहे थे.

 

सहवाग के क्रिकटे करियर की बात करें तो उन्होंने 104 टेस्ट मैचों में 8586 रन बनाए हैं जिसमें उनके नाम 23 शतक, 6 दोहरे शतक और 32 अर्धशतक. इसके साथ ही 251 वनडे मैचों में सहवाग के नाम कुल 8273 रन दर्ज हैं, जिसमें उनके नाम 15 शतक और 38 अर्धशतक हैं.

ये भी पढ़ें: कोहली का 'ब्रह्मास्त्र' दिनेश कार्तिक की कप्तानी में करेगा बल्लेबाजी, पांड्या भी हैं इस टीम में शामिल

First published: 20 October 2018, 12:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी