Home » क्रिकेट » West Indies Cricketers Not paid match fees Since January
 

वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड में गहराया आर्थिक संकट, जनवरी से नहीं मिल पाई है खिलाड़ियों को मैच फीस

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 April 2020, 18:44 IST

कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) के कारण पुरी दुनिया में लॉक डाउन है और अभी पूरी तरह से खेल गतिविधियां बंद है. इस महामारी के कारण कई खेल टूर्नामेंट या तो रद्द कर दिए गए हैं या फिर उन्हें स्थगित कर दिया गया है. ऐसे में खिलाड़ियों को आर्थिक नुकसान होना तय है क्योंकि बोर्ड को नुकसान होगा. ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड (Cricket Australia) तो पहले ही इस बात की संभावना जता चुका है. लेकिन इन सबके बीच खबर है कि वेस्टइंडीज बोर्ड (West Indies Cricket Board) ने अपने खिलाड़ियों को जनवरी से उनकी मैच फीस नहीं दी है और इसका कारण वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड के खराब आर्थिक हालात हैं.

वेस्टइंडीज खिलाड़ी संघ के सचिव वेन लुईस ने ईएसपीएनक्रिकइंफो से कहा,'मासिक वेतन (और भत्ते) दे दिये गये हैं. समस्या यह है कि प्रथम श्रेणी प्रतियोगिताओं में रिटेन खिलाड़ियों को अभी तक आठ दौर की मैच फीस नहीं दी गयी है.'

ये भी पढ़े- जब 'आलू' कहने पर चिढ़ गया था पाकिस्तान का खिलाड़ी, भारतीय फैंस को मारने घुसा था क्राउड में, हुआ था खूब वबाल

वहीं बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जॉनी ग्रेव ने इस बात का आश्वासन दिया है कि खिलाड़ियों को भविष्य में भुगतान कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा,'क्रिकेट वेस्टइंडीज वित्तीय रूप से कठिन दौर से गुजर रहा है. इन खिलाड़ियों को हम भुगतान करने की कोशिश कर रहे हैं.'

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, वेस्टइंडीज टीम (West Indies Cricket Team) ने इस साल जनवरी महीने में आयरलैंड के खिलाफ तीन वनडे और तीन टी20 मैच की जो सीरीज खेली थी उन मुकाबलों की मैच फीस का भुगतान अभी तक खिलाड़ियों को नहीं किया गया है जबकि श्रीलंका के खिलाफ तीन वनडे और दो टी20 मैच की फीस का भी भुगतान खिलाड़ियों को नहीं किया गया है. इतना ही नहीं महिला टीम को भी आईसीसी महिला टी 20 विश्व कप (ICC Women's T20 World Cup) के खेले गए चार मैचों का भुगतान नहीं किया गया है.

ये भी पढ़े- पाकिस्तान के पूर्व कप्तान ने भारतीय बल्लेबाजों पर लगाया आरोप, बोले- टीम इंडिया के लिए नहीं बनाते थे रन

इतना ही नहीं जॉनी ग्रेव ने बताया कि श्रीलंका और बांग्लादेश के खिलाफ साल 2018 में हुई सीरीज के दौरान बोर्ड को जो नुकसान हुआ था, उसका खामियाजा अभी तक बोर्ड को उठाना पड़ रहा है.

जब 'आलू' कहने पर चिढ़ गया था पाकिस्तान का खिलाड़ी, भारतीय फैंस को मारने घुसा था क्राउड में, हुआ था खूब वबाल

First published: 23 April 2020, 18:27 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी