Home » क्रिकेट » Why Mayank Agarwal does not select for team India in triseries in Sri Lanka inspite 2051 runs across all formats in Domestic cricket
 

मयंक अग्रवाल ने बनाए सबसे अधिक रन, लेकिन इस वजह से टीम इंडिया में नहीं मिली जगह

हेमराज सिंह चौहान | Updated on: 26 February 2018, 15:17 IST

टीम इंडिया मार्च के महीने में श्रीलंका के खिलाफ ट्राई सिरीज खेलगी. बीसीसीआई ने इस सिरीज के लिए टीम इंडिया का ऐलान रविवार को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने किया. बीसीसीआई ने इस सिरीज के टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली, विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, हार्दिक पांड्या और कुलदीप यादव को आराम दिया गया है. 

इस सिरीज में रोहित शर्मा टीम इंडिया की अगुवाई करेंगे. T20 ट्राई सीरीज के लिए टीम में विकेटकीपर ऋषभ पंत, दीपक हुडा, विजय शंकर और मो.सिराज को भी मौका दिया गया है. घरेलू क्रिकेट में हर फॉर्मेट में धमाल मचाने वाले मयंक अग्रवाल को टीम में शामिल नहीं किया गया है. जबकि उन्हें मौका मिलने की पूरी उम्मीद थी. कर्नाटक के ओपनर मयंक अग्रवाल ने साल 2017-18 में घरेलू क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाए थे.

मयंक ने सैय्यद  मुश्ताक अली T20 ट्राफी में शानदार प्रदर्शन करते हुए 3 फिफ्टी लगाई थी. इस ट्राफी में उनका स्ट्राइर रेट  144.94 का रहा था, उन्होंने रणजी ट्राफी में 1160 से रन बनाए थे. इसमें उन्होंने एक तिहरे शतक के अलावा पांच शतक मारे. मयंक ने इस साल घरेलू क्रिकेट में कुल 2051 रन बनाए. वो एक सीजन में घरेलू मैचों में सर्वाधिक रन बनाने के मामले में दूसरे नंबर पर आ गए हैं.

मयंक को ना खिलाने से नाराज कर्नाटक के पूर्व कोच और मयंक के मेंटर जे अरूण कुमार ने कहा," मयंक का सलेक्शन ना होना हैरान करने वाला है. एक खिलाड़ी ने आप और क्या उम्मीद कर सकते हैं. उसने क्रिकेट के हर फॉर्मेट में रन बनाए. यहां तक कि भारत ए की तरफ से भी उसने साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2 शतक ठोके थें. उसे बाहर करना समझ से बाहर है. अगर विजय शंकर को मौका मिला है तो आप मयंक को कैसे बाहर बिठा सकते हैं, मुझे उम्मीद है कि भविष्य में उसे ज़रुर मौका मिलेगा."

टीम इंडिया की घोषणा करते समय अखिल भारतीय चयन समिति के चेयरमैन एमएसके प्रसाद ने कहा, "निदास ट्रॉफी के लिए टीम का चयन करने के दौरान हमने आगामी टूर्नामेंटों की कार्यसारिणी और काम को ध्यान में रखा है."

इस मामले में बीसीआई ने अपना पक्ष सामने रखा है. एनडीटीवी के मुताबिक बीसीसीआई के अधिकारी ने इस मामले पर सफाई देते हुए कहा, "मयंक का चयन श्रीलंका ट्राई सीरीज के लिए इसलिए नहीं हुआ क्योंकि हम एक व्यवस्था या तरीके पर अमल कर रहे हैं. घरेलू क्रिकेट में बेहतर करने वाले किसी भी खिलाड़ी के नाम पर राष्ट्रीय टीम के लिए विचार करने से पहले उसे भारत ए के लिए खेलना होगा."

 

इसी के साथ ही बीसीसीआई ने टीम इंडिया में खेलने की इच्छा रखने वाले सभी खिलाड़ियों को संकेत दिया है कि आपको घरेलू क्रिकेट के अलावा भारत ए की तरफ से भी शानदार प्रदर्शन करना होगा. इसके बाद ही आपको देश के लिए खेलने के लिए नीली जर्सी मिलेगी.

First published: 26 February 2018, 15:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी