Home » क्रिकेट » World Cup 2019: Again Kumar Dharamsena wrong decision give LBW to Ross Taylor
 

World Cup 2019: फाइनल मुकाबले में अंपायर से हुई चूक, न्यूजीलैंड को हुआ बड़ा नुकसान

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 July 2019, 20:45 IST

ICC Cricket World Cup 2019 में फाइनल के मुकाबले में एक बार फिर खराब अंपायरिंग देखने को मिली. विश्व कप के 12वें संस्करण के दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में जेसन रॉय को गलत देने वाले अंपायर कुमार धर्मसेना ने इस मुकाबले में एक बार फिर खराब अंपारिंग की. इस बार उनका शिकार न्यूजीलैंड के बल्लेबाज रॉस टेलर बने.

विश्व कप के फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड के खिलाफ टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी न्यूजीलैंड की शुरूआत अच्छी नहीं रही. टीम ने 29 रनों के स्कोर पर सलामी बल्लेबाज मार्टिन गुप्टिल का विकेट गंवा दिया. इसके बाज क्रीज पर आए केन विलियसन ने सलामी बल्लेबाज हेनरी निकोल्स के साथ मिलकर तीसरे विकेट के लिए 74 रनों की साझेदारी की. केन 30 रन बनाकर चलते बने. वहीं इसके बाद नंबर चार पर बल्लेबाजी करने आए रॉस टेलर 15 रनों के स्कोर पर मार्क वुड का शिकार बने.

न्यूजीलैंड की पारी का33वां ओवर फेंकने मार्क वुड आए थे, जिन्होंने पहली गेंद पर टेलर बीट हुए, गेंद उनके पेड पर लगी. इंग्लैंड ने जोरदार अपील की और अंपायर धर्मसेना ने टेलर का आउट करार दिया. वहीं जब बॉल ट्रैकिंग सिस्टम से देेखा गया तो उसमें गेंद विकेट की लाइन में नहीं थी साथ ही गेंद की हाईट ज्यादा था जिसके कारण वो लेग विकेट के ऊपर से जा रही थी. नियमों के मुताबिक बल्लेबाज नॉट आउट था लेकिन टेलर को आउट करार दिया गया.

टेलर जब आउट हुए तक न्यूजीलैंड काफी मजबूत स्थिति में दिख रहा था. भारत के खिलाफ सेमीफाइनल मुकाबले में टेलर की 77 रनों की पारी के दम पर ही न्यूजीलैंड 239 के स्कोर तक पहुंच पाई थी. वहीं अगर टेलर अंपायर के गलत निर्णय का शिकार नहीं बनते तो इस मैच का स्कोर कुछ और ही होता.

रॉस टेलर के आउट होने के बाद विकेटकीपर बल्लेबाज टॉम लेथम ने टीम की रन गति को आगे बढ़ाया. लेथन ने इस मुकाबले में 47 रनों की पारी खेली. न्यूजीलैंड ने इस मुकाबले में निर्धारित 20 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 241 रन बनाए.

World Cup 2019: केन विलियसन ने फाइनल मुकाबले में रचा इतिहास, इस मामले में बने नंबर वन

First published: 14 July 2019, 20:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी